बिना कारण अनुपस्थित मिले अध्यापकों को तत्काल सस्पेंड करें:: मंडलायुक्त रोशन जैकब


लखनऊ : (मानवी मीडिया) मंडलायुक्त डॉ रोशन जैकब की अध्यक्षता में आज आयुक्त सभागार में बेसिक शिक्षा , माध्यमिक शिक्षा एवं विभागीय कार्यक्रमों/ योजनाओं की समीक्षा बैठक आयुक्त सभागार में आयोजित की गयी। जिसमें संबंधित अधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए निम्न बिन्दुवों पर चर्चा की गई।

मंडलायुक्त ने मंडल के संबंधित अधिकारियो से स्कूलों के कायाकल्प के अंतर्गत निम्न बिंदुओं पर चर्चा की गई, शुद्ध एवं सुरक्षित पेयजल, बालक शौचालय, यूनिट बालिका शौचालय यूनिट शौचालय में जल-नल आपूर्ति, शौचालय में टॉयलीकरण, दिव्यांग सुलभ शौचालय, हैंड वाशिंग यूनिट, कक्षा-कक्ष की फर्स का टॉयलीकरण, श्यामपट्ट, रसोईघर, विद्यालय की समुचित रंगाई पुताई, विद्यालय परिसर में दिव्यांग सुलभ एवं रेलिंग कक्षा-कक्ष में उपयुक्त वायरिंग एवं विद्युत उपकरण पर चर्चा करते कहां की कायाकल्प के योजना में तेजी लाये और जो भी समस्या है। उसका तत्काल निस्तारण करायें। उन्होंने कहा कि स्कूलों में शौचालय प्राथमिकता के आधार पर चुस्त दुरुस्त कराया जाए । जो शौचालय निर्माणधीन है  उनको ससमय पूर्ण करा लिया जाये। सभी स्कूलों के हैंडपंप के पानी की गुणवत्ता चेक करते रहें जहां रिबोर की जरूरत है वह तत्काल रिबोर कराले। इसमें किसी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

मंडलायुक्त ने कहा कि संबंधित अधिकारी स्कूल का निरीक्षण करते रहे और यह भी सुनिश्चित कराएं कि अध्यापक समय में स्कूल पहुंचे और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा बच्चों को दिया जाए, रसोइयों का मानदेय ससमय कराएं तथा शिक्षक द्वारा बच्चों के अभिभावकों से संपर्क कर बच्चों को विद्यालय यूनिफॉर्म में भेजने के लिए प्रेरित किए जाने हेतु निर्देशित किया गया। बेसिक शिक्षा अधिकारी लखनऊ द्वारा बताया गया कि विद्यालय के नव निर्माण कार्य 51 के सापेक्ष 30 कार्य पूर्ण हुए हैं उक्त के संबंध में उन्होंने कहा कि स्कूलों के अर्धनिर्माण, नवनिर्माण के कार्यों में तेजी लाएं।उन्होंने सख्त निर्देश देते हुए कहा कि विद्यालयों में बिना कारण अनुपस्थित मिले अध्यापकों को तत्काल सस्पेंड करे और बेसिक शिक्षा अधिकारी स्वयं जाकर विद्यालयों को चेक करें।

मंडलायुक्त ने संबंधित अधिकारी को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि स्कूलों में मूलभूत सुविधाओं का विशेष ध्यान रखा जाए। इसमें किसी प्रकार की हिला हवाली बर्दाश्त नहीं की जाएगी। पीएम पोषण शक्ति निर्माण से आच्छादित विद्यालय की स्थिति की जानकारी ली और साथ ही साथ कहा कि टास्क फोर्स की बैठक नियमित करें और स्कूल का निरीक्षण प्रतिदिन करते रहें। विद्यालयों की मान्यता की स्थिति पर चर्चा करते हुए कहा कि मान्यता के लिए समय सीमा के साथ-साथ जवाबदेही भी तय करें । विद्यालय में अविद्युतीकरण की स्थिति के बारे में चर्चा करते हुए कहा कि जिस विद्यालय में बिजली नही है तो वहाँ झटपट योजना के तहत बिजली कनेक्शन करा लें और कायाकल्प की प्रगति रिपोर्ट में तेजी लाये कायाकल्प योजना के तहत सभी प्राथमिक/उच्च प्राथमिक कायाकल्प योजना के तहत सभी प्राथमिक/उच्च प्राथमिक विद्यालयों में मूलभूत सुविधाओं पर जोर देते हुए कहा कि स्कूलों में फर्नीचर की व्यवस्था, प्ले ग्राउण्ड, प्राथमिकता के आधार पर कराया जाना है तथा जिस स्कूल में बाउण्ड्रीवाल, हैण्डपम्प, शौचालय, और मूलभूत सुविधाओं को लेकर समस्या है वो सम्बन्धित विभाग से समन्वय स्थापित करके यथावश्यक कार्यवाही करें।

इस अवसर पर  मुख्य विकास अधिकारी  रिया केजरीवाल,अपर आयुक्त न्यायिक  शीलधर, संयुक्त शिक्षा निदेशक, जिला विद्यालय निरीक्षक ऐ०डी०बेसिक, मंडल के बेसिक शिक्षा अधिकारी/ कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

Previous Post Next Post