लखनऊ में फिर सक्रिय हुआ अश्लील वीडियो से उगाही का गैंग



लखनऊ  (मानवी मीडिया राजधानी में कुछ समय के लिए शांत रहे अश्लील वीडियो कॉल गैंग ने फिर एक काण्ड को अंजाम दिया है। एक युवती ने पहले अश्लील वीडियो कॉल कर युवक को जाल में फंसाया गया, फिर साइबर अधिकारी, आईपीएस अधिकारी व यू-ट्यूबर बन जालसाजों ने 4.07 लाख रुपये ऐंठ लिए। इस मामले में गोमतीनगर पुलिस की तरफ से एफआईआर दर्ज कर साइबर क्राइम सेल की मदद से जांच की जा रही है। 

मिली जानकारी के अनुसार गोमतीनगर विस्तार के शारदा अपार्टमेंट में रहने वाले युवक के मोबाइल पर 2 जनवरी की रात व्हाट्सएप पर वीडियो कॉल आई। पीड़ित ने कॉल रिसीव की तो महज दस सेकेंड कॉल चलने के बाद कट गई। दो दिन बाद उसके पास कॉल व मैसेज आया कि दिल्ली साइबर क्राइम ब्रांच से आईपीएस अजय कुमार बोल रहा हूं आपका एक वीडियो वायरल हो रहा है, जो आपत्तिजनक है। पीड़ित को एक नंबर पर बात करने को कहा गया। 

पीड़ित ने दिए गए नम्बर पर कॉल कर वीडियो ब्लॉक करने का अनुरोध किया। जालसाज ने युवक से प्रति वीडियो पचास हजार रुपये की डिमांड की। यदि ऐसा नहीं करते हैं तो वीडियो यू-ट्यूब पर वायरल कर दिया जाएगा। बदनामी से बचने के लिए पीड़ित ने दिए गए खाते में तीन बार में 1,72,200 रुपये ट्रांसफर कर दिए। इसके बाद यू-ट्यूबर ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म से वीडियो हटाने के एवज में 2.35 लाख रुपये जमा करा लिए।

पीड़ित के मुताबिक, इन सब के बाद एक बार आईपीएस बनकर जालसाज ने कॉल की और केस खत्म कराने के लिए 10 लाख की मांग की।  4.07 लाख देने के बाद इतनी बड़ी रकम सुनकर पीड़ित डर गया और घरवालों को आपबीती बता दी। पीड़ित ने मामले की शिकायत गोमतीनगर विस्तार थाने में की , पुलिस ने तहरीर के आधार पर धोखाधड़ी व धमकी की एफआईआर दर्ज कर ली है। 

Previous Post Next Post