लोहिया संस्थान में आउटसोर्सिंग कर्मियों के वेतन बढ़ोत्तरी की उठी मांग


लखनऊ  (मानवी मीडिया)  डॉ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में तैनात आउटसोर्सिंग कर्मियों के समर्थन में उत्तर प्रदेश राज्य कर्मचारी महासंघ उतर आया है। आउटसोर्सिंग कर्मियों की समस्याओं के निराकरण के लिए उत्तर प्रदेश राज्य कर्मचारी महासंघ की तरफ से प्रदेश के मुख्य सचिच को पत्र लिखकर वेतन बढ़ोत्तरी की मांग की गई है। महासंघ के प्रदेश महामंत्री रामराज दुबे की तरफ से यह पत्र लिखा गया है।

दरअसल,साल 2021 में 4 जून को शासन की तरफ से आदेश जारी किया गया था। इस आदेश में कहा गया था कि आउटसोर्सिंग कर्मचारियों का वेतन निर्धारण संस्थान की शासी निकाय में किया जाए,लेकिन इस मामले में संस्थान प्रशासन पिछले 2 साल से हीलाहवाली कर रहा है  जिससे कर्मचारी उपेक्षित महसूस कर रहे हैं और उनमें आक्रोश व्याप्त हो रहा है ।

इसके अलावा महासंघ के प्रदेश महामंत्री रामराज दुबे ने कहा कि संविदा कर्मचारी संघ के अध्यक्ष करुणेश तिवारी को लोहिया संस्थान द्वारा सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है उत्तर प्रदेश राज्य कर्मचारी महासंघ ने बर्खास्तगी को नियम विरुद्ध बताया है । उन्होंने कहा कि आउटसोर्सिंग कर्मचारियों को किसी आरोप पर बिना कमेटी गठित करके जांच कराएं कार्यमुक्त नहीं किया जा सकता है ।

ऐसे में संस्थान द्वारा नियम विरुद्ध कार्यवाई अध्यक्ष के लिए किया जाना गलत है। इसलिए संस्थान के कर्मचारी आक्रोशित है और आंदोलन पर जा सकते हैं।

Previous Post Next Post