अखिलेश यादव ने जनेश्वर मिश्र की पुण्यतिथि पर उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित कर किया नमन

लखनऊ (मानवी मीडिया)  समाजवादी पार्टी मुख्यालय, लखनऊ सहित प्रदेश के विभिन्न जनपदों में आज वरिष्ठ समाजवादी नेता, पार्टी के पूर्व उपाध्यक्ष तथा पूर्व मंत्री  जनेश्वर मिश्र की पुण्यतिथि पर उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित कर नमन किया गया।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री  अखिलेश यादव ने आज समाजवादी चिंतक स्वर्गीय जनेश्वर मिश्र की पुण्यतिथि के अवसर पर मुख्य कार्यक्रम स्थल राजधानी लखनऊ के गोमतीनगर स्थित जनेश्वर मिश्र पार्क में उनकी प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।

    इस अवसर पर पत्रकारों से बात करते हुए  अखिलेश यादव ने कहा कि जनेश्वर मिश्र जी डाॅ0 राम मनोहर लोहिया जी, जय प्रकाश नारायण जी और कर्पूरी ठाकुर जी की पीढ़ी के नेता रहें। उन्होंने नेताजी मुलायम सिंह यादव के साथ मिलकर समाजवादी आंदोलन को आगे बढ़ाया। आज हम समाजवादी साथी समाजवादी आंदोलन को आगे बढ़ाने का संकल्प लेते है। 

     अखिलेश यादव ने कहा कि समाज की समस्याओं के समाधान का रास्ता सिर्फ समाजवादी विचारधारा दे सकती है। समाजवादी विचारधारा सबको बराबरी का हक और सम्मान देती है। इसी विचारधारा से देश और समाज का भला हो सकता है। भाजपा सरकार समाज में नफरत और भेदभाव बढ़ा रही है। भाजपा राज में महंगाई, बेरोजगारी चरम पर है। गरीब आज न्याय की उम्मीद नहीं कर सकता है। भाजपा संविधान में दिए गए लोकतांत्रिक अधिकारों को छीन रही है। यह सरकार सामाजिक न्याय की दुश्मन और पिछड़ों, दलितों की विरोधी है। 

    समाजवादी पार्टी ने पिछले विधानसभा चुनाव में कहा था कि सरकार बनेगी तो तीन महीने में जातीय जनगणना करायी जाएगी। भाजपा कभी भी पिछड़ों को हक और सम्मान नहीं देना चाहती है। बिहार सरकार जातीय जनगणना करा रही है। यह एक अच्छा कदम है। 

    भाजपा सरकार जानबूझकर निजीकरण को बढ़ावा दे रही है। भाजपा ऐसी नीतियां बना रही है, जिससे सिर्फ कुछ उद्योगपतियों को लाभ हो रहा है। भाजपा ऐसे कानून बना रही है जिससे पूरी सरकार एक प्राइवेट हाथों में चली जाए। इसी तरह से एक कानून ब्रिटेन में पास हुआ था, उसके बाद भारत में कारोबार करने वाली ईस्ट इण्डिया कम्पनी की सरकार बन गई थी। भाजपा सरकार भी उसी रास्ते पर काम कर रही है। प्रदेश और देश की बिगड़ी स्थिति को समाजवादी विचारधारा ही सुधार सकती है।

     अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार ने हर क्षेत्र में प्रदेश को पीछे ढकेल दिया है। आज हर वर्ग नाराज है। किसानों, नौजवानों, व्यापारियों में आक्रोश है। ऐसा लग रहा है कि लोकसभा चुनाव में सभी 80 सीटें भाजपा हार जाएगी। पूरी सरकार निवेश के नाम पर जनता को धोखा दे रही है। सरकार न्यूयार्क, लंदन से निवेश लाने गई थी। अब उसे जिलों-जिलों में निवेश सम्मेलन करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि जिन प्रदेशों में सरकार निवेश लाने जा रही है, वहां भी तो उसी तरह का कार्यक्रम हो रहे हैं। अभी मध्य प्रदेश सरकार ने विज्ञापन दिया है कि वहां 17 लाख करोड़ का निवेश आ रहा है। जब दूसरे प्रदेशों में भी इसी तरह से निवेशक सम्मेलन हो रहे हैं तो वहां से यहां निवेश कैसे आएगा? भाजपा सरकार जनता को सिर्फ धोखा दे रही है।

     यादव ने कहा जनता भाजपा सरकार का हाल और काम देख रही है। भाजपा का 2022 अभी खत्म नहीं हुआ। किसानों की आय दुगनी नहीं हुई। किसान के गन्ने का भुगतान नहीं हुआ। बिजली का मंहगा बिल देना पड़ रहा है। कीटनाशक दवाएं महंगी हैं। डीएपी, यूरिया खाद का कोई इंतजाम नहीं है। देश में सबसे ज्यादा कस्टोडियल डेथ हो रही है।

    यादव ने कहा कि भाजपा सरकार ने समाजवादी पार्टी की सरकार में बनाए गए जनेश्वर मिश्र पार्क, गोमती रिवरफ्रंट तथा अन्य विकास कार्यों को बर्बाद कर दिया है।

समाजवादी पार्टी मुख्यालय, लखनऊ तथा जनेश्वर मिश्र ट्रस्ट में भी स्व0 जनेश्वर मिश्र जी की प्रतिमा पर श्रद्धासुमन अर्पित किए गए।  

    इस अवसर पर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र चैधरी, पूर्व कैबिनेट मंत्री रविदास मेहरोत्रा, विधायक संग्राम सिंह, जय प्रकाश अंचल, एमएलसी जासमीर अंसारी, पूर्व मंत्री आर.के. चौधरी, स्व0 जनेश्वर मिश्र के नाती विश्व भूषण तिवारी, पूर्व एमएलसी डाॅ0 मधु गुप्ता,  शशांक यादव, रामबृक्ष सिंह यादव एवं डॉ. राजपाल कश्यप, राजेश यादव, वरिष्ठ नेता अनुराग यादव, पारस नाथ यादव, राजीव राय, डाॅ0 फिदा हुसैन अंसारी तथा सर्वश्री निवर्तमान जिलाध्यक्ष जयसिंह जयंत, निवर्तमान महानगर अध्यक्ष सुशील दीक्षित, विजय सिंह यादव, राम सागर, मोहम्मद एबाद, सीएल वर्मा, सोनू कन्नौजिया, विदेश पाल सिंह, पवन मनोचा, मनीष सिंह, प्रदीप तिवारी, सिद्धार्थ सिंह, नेहा यादव, अरविन्द गिरि, रामकरन निर्मल, के.के. श्रीवास्तव, डाॅ0 हरिश्चन्द्र सिंह, राधेश्याम सिंह, चांद सिद्दीकी, इकबाल खान, पार्षद देवेन्द्र यादव जीतू, पार्षद नीरज यादव, नवीन धवन बंटी, किरन पाण्डेय, दानिश सिद्दीकी, सुधीर कुमार, मनीष यादव, रमेश चन्द्र, जेड.यू. खान, गजेन्द्र सिंह, एस. राय, मुनीर अहमद, विनय यादव, अजय गोपाल दुबे (जेडी), वंदना चतुर्वेदी, उर्मिला यादव, दुर्गेश खरे, सुभाष यादव, मनोज यादव सहित सैकड़ों नेताओं ने  जनेश्वर मिश्र को पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें नमन किया।

             

Previous Post Next Post