डाक्यूमेंट फिटनेस सर्टिफिकेट 48 घंटे में सिस्टम से स्वतः होगा जनरेट-- मंत्री दयाशंकर सिंह

 

लखनऊ: (मानवी मीडिया)उत्तर प्रदेश के परिवहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार)  दयाशंकर सिंह ने आज परिवहन कार्यालय के सभागार कक्ष में विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। उन्होंने स्वचालित प्रशिक्षण स्टेशन पर डॉक्यूमेंट फिटनेस जारी करने सम्बंधी विषय पर अधिकारियों से जानकारी ली और निर्देश दिये कि डॉक्यूमेंट फिटनेस जारी करने के साथ ही इन्सपेक्सन एवं सर्टिफिकेशन एआरटीओ/आरआई द्वारा किया जायेगा। साथ ही 48 घंटे के भीतर यदि एआरटीओ/आरआई निस्तारण नहीं करते हैं तो डॉक्यूमेंट फिटनेस सर्टिफिकेट सिस्टम द्वारा स्वतः जनरेट हो जायेगा। यह व्यवस्था कानपुर एवं आगरा सेन्टर पर भी उपलब्ध होगा।

 दयाशंकर सिंह ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि प्रदेश के 58 जनपदों के लिए डीटीसी आवेदन आमंत्रण की कार्यवाही की सूचना जनवरी में सभी आवश्यक कार्यवाही पूरी करते हुए जारी किया जाय। उन्होंने कहा कि भारत सरकार की गाइडलाइनस के अनुसार सभी कामर्शियल वाहनों में वीएलटीडी की कार्यवाही जल्द से जल्द सुनिश्चित कराएं। सरकारी कम्पनियांे के माध्यम से आवेदन प्राप्त करते हुए गाइडलाइन के अनुसार जो भी कम्पनी मानक पूरी कर रही हो उसके माध्यम से इसकी कार्यवाही सुनिश्चित कराएं।

 दयाशंकर सिंह ने कहा कि ट्रेनिंग सेंटरों पर जो भी टेªनिंग की कार्यवाही की जाय उसका वीडियो अपलोड हो। उन्होंने कहा कि विभागीय अधिकारी इस वीडियो की समय-समय पर अपने स्तर से जांच भी करें, जिससे कि एक निगरानी तंत्र भी बना रहे और आने वाली शिकायतों का भी संज्ञान लिया जा सके।

बैठक के दौरान प्रमुख सचिव परिवहन  वेंकटेश्वर लू, एमडी परिवहन निगम् संजय कुमार, अपर परिवहन आयुक्त  वी0के0 सोनकिया सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Previous Post Next Post