मोदी मैजिक पर विश्वास हिंदुत्व और विकास के मुद्दे पर गुजरात में भाजपा को मिली रिकार्डतोड़ जीत

 

नई दिल्ली (मानवी मीडिया)-गुजरात विधानसभा चुनाव में भाजपा ने इतिहास रच दिया। 182 विधानसभा सीटों पर चुनाव में भाजपा ने 156 सीटें जीतीं जबकि कांग्रेस ने 17 और आम आदमी पार्टी को 5 सीटें मिलीं। अन्य दलों के खाते में 4 सीटें आईं। गुजरात में भाजपा ने गुजरात मॉडल के रूप में हिंदुत्व और विकास का ऐसा पैकेज लोगों को दिया कि वोट देने वाले आधे से अधिक लोगों ने सिर्फ कमल का बटन ही दबाया। सभी जानते हैं कि हिंदुत्व की प्रयोगशाला गुजरात से शुरू हुई थी। 2002 के गोधरा दंगों के बाद भाजपा ने हिंदुत्व के मुद्दे पर 127 सीटों के साथ ऐतिहासिक जीत हासिल की थी। फिर 2003 में वाइब्रेंट गुजरात समिट की शुरुआत की। विकास का नया गुजरात मॉडल बनाया।

- गुजरात चुनाव में कायम रहा वलसाड  का मैजिक, यहां से जो जीता उसकी बनती है सरकार; भरतभाई पटेल जारी रखेंगे  परंपरा!

फिर राम मंदिर, तीन तलाक और धारा 370 का खात्मा। गुजरात में भारतीय जनता पार्टी की जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भाजपा के मुख्यालय पहुंचे। जहां उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि जनता के सामने नतमस्तक हूं। उपचुनाव के नतीजों पर टिप्पणी करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि ये आने वाले दिनों के स्पष्ट संकेत हैं। चुनाव आयोग का आभार जताते हुए पीएम ने कहा कि चुनाव आयोग ने शांति पूर्ण तरीके से चुनाव कराए। हिमाचल की हार पर पीएम मोदी ने कहा कि मैं प्रदेश की जनता को कहना चाहता हूं कि भले ही हम 1 प्रतिशत से पीछे रह गए लेकिन उसके विकास और प्रगति में कोई रुकावट नहीं आने देंगे। हिमाचल की प्रगति के लिए भारत सरकार की प्रतिबद्धता वैसे ही बनी रहेगी। उल्लेखनीय है कि गुजरात में भाजपा 1995 से लगातार सत्ता में है। इन 27 सालों में बीते 21 साल मोदी के इर्द गिर्द रहे, चाहें वह मुख्यमंत्री रहे हों या फिर प्रधानमंत्री। मोदी के मुख्यमंत्री बनने के बाद 2002 में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा ने सबसे बड़ी 127 सीट की जीत दर्ज की थी। लेकिन उसके बाद के हर चुनाव में पार्टी जीती तो, लेकिन सीटें घटीं। बीते 2017 के चुनाव में भाजपा 99 सीटों पर ही रुक गई और उसे कांग्रेस से कड़ी चुनौती मिली। यह वह चुनाव था, जबकि मोदी प्रधानमंत्री बनकर दिल्ली आ गए थे।

Previous Post Next Post