सरोजनीनगर, में आगाज हुआ स्पोर्ट्स लीग अंडर-19 गर्ल्स बास्केटबॉल टूर्नामेंट का

लखनऊ (मानवी मीडिया) उत्तर प्रदेश कि राजधानी लखनऊ के सरोजनीनगर, में आगाज हुआ स्पोर्ट्स लीग अंडर-19 गर्ल्स बास्केटबॉल टूर्नामेंट का

     सरोजनी नगर लखनऊ में बेटियों के सर्वांगीण विकास को ध्यान में रखते हुए सरोजिनी नगर के विधायक माननीय राजेश्वर सिंह ने एसकेडी अकेडमी ,वृंदावन योजना, लखनऊ में टूर्नामेंट का उद्घाटन किया, अति विशिष्ट प्रेरक व्यक्तित्व के रूप में अताउर रहमान मसूदी इलाहाबाद हाई कोर्ट के जज उपस्थित रहे।

        भोनवाल पब्लिक स्कूल तथा कर्नल एस एन मिश्रा स्कूल के बच्चों ने मैच की शुरुआत करते हुए , मनीपाल पब्लिक स्कूल व दिल्ली पब्लिक स्कूल के बीच कांटे की टक्कर कई चरणों में हुई।

     कार्यक्रम को व्यवस्थित रूप से दीपाली त्रिपाठी ने संचालित किया। एसकेडी एकेडमी के फाउंडर एसकेडी सिंह पूरे समय कार्यक्रम में उपस्थित रहे और बच्चों का उत्साह वर्धन  किया। सभी प्रतिभाग कर रहे बच्चों को विधायक मा राजेश्वर सिंह द्वारा खेल किट प्रदान की गई, खेल में प्रतिभाग कर रही लड़कियों ने एक साथ बास्केटबॉल को उछाल कर अपनी खुशी जाहिर की।

        भारतीय नगरी परिषद की तरफ से महामंत्री रीना त्रिपाठी ने बच्चों से मिलकर इस लीग के प्रति उनके मन के भावों को जानने के लिए अलग-अलग समूहों में बात की।बेटियां खेल किट पाकर तथा अपने विद्यालय से निकलकर लीग में विभिन्न मैचों में खेलने के प्रति काफी उत्साहित दिखी और सभी टीमों के प्रतिभागियों की नजर विजेता ट्राफी की तरफ़  लक्ष्य साधते नजर आई। कोच श्रवण त्रिवेदी ,विशाल कुमार दिनेश कुमार यादव काफी उत्साहित दिखे वहीं अनन्या वर्मा ,आर्य वर्मा राशि द्विवेदी ,आरोही श्रीवास्तव, अनन्या सिंह, अंशिका यादव, सोना अरोरा ,कृतिका मलिक ,खुशी द्विवेदी, देवांशी शर्मा और सुमेधा दीक्षित जहां मैच के प्रति उत्साहित नजर आए वही अंशिका पांडे ,शिवानी सिंह ,दिव्या ,लवली ,पल्लवी ,खुशबू इशिका, रिमझिम ,कुमकुम सहित सभी बच्चे खुशी से झूमते नजर आए ।

     स्कूलों की तरफ से ज्यूरी के रूप में कविता श्रीवास्तव , शैली श्रीवास्तव रिचा सिंह ,श्वेता द्विवेदी तथा कोच सहित पूरी टीम न्याय पूर्ण निर्णय देने के प्रति तत्पर दिखे।

    सरोजिनी नगर में इस प्रकार के आयोजन का संदेश यही देना है कि यदि बेटियां शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ होंगी तो निश्चित रूप से देश अपने चहुमुखी विकास में बेटियों की सकारात्मक भागीदारी का लाभ ले सकेगा। बेटियां अच्छे स्वास्थ्य प्रसन्न मन और परिष्कृत व्यक्तित्व के माध्यम से ही घर परिवार देश और समाज को अपना बेहतरीन योगदान दे सकती हैं और यह सीख खेल के मैदान से बेहतर कहीं नहीं दी जा सकती।


Previous Post Next Post