डा० नवनीत सहगल ने के०डी०सिंह ‘‘बाबू’’ स्टेडियम स्थित तरणताल (स्वीमिंग पूल) का किया निरीक्षण

 

लखनऊ: (मानवी मीडिया)अपर मुख्य सचिव, खेल एवं युवा कल्याण, डा० नवनीत सहगल ने आज यहां प्रातः के०डी०सिंह ‘‘बाबू’’ स्टेडियम स्थित तरणताल (स्वीमिंग पूल) का निरीक्षण किया। उन्होंने स्वंय मौरंग एवं सीमेण्ट के अनुपात की गहन जॉच की तथा परियोजना प्रबन्धक को मौरग एवं सीमेण्ट के अनुपात में किसी प्रकार की लापरवाही न किये जाने की सख्त हिदायत दी।

अपर मुख्य सचिव ने कहा कि तरणताल का निर्माण एवं मरम्मतीकरण का कार्य अन्तर्राष्ट्रीय मानक के अनुरूप कराया जाये। स्वीमिंग पूल के निर्माण हेतु विशेषज्ञों की सलाह ली जाय। उन्होंने निर्देश दिये कि तरणताल के निर्माण कार्य हेतु स्वीकृत आगणन में जो कार्य सम्मिलित न हो उन्हें एक सप्ताह के अन्दर स्वीकृत कराये जाने सम्बन्धी कार्यवाही की जाये। कार्य को त्वरित गति से करायें एवं कार्य की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाये। उन्होंने कहा कि तरणताल के निर्माण में सहयोग हेतु उ०प्र० तैराकी संघ को जोड़ा जाये। तरणताल के सामने दोनो पार्कों का सौन्दर्यीकरण कराया जाये। स्टील स्ट्रक्चर के निर्माण हेतु तत्काल विशेषज्ञो को बुलाकर अतिशीघ्र शेड का निर्माण कराया जाये, ताकि खेलो इण्डिया यूनिवर्सिटी गेम्स का आयोजन किया जा सके। इसके साथ ही उन्होंने तरणताल के प्रवेश द्वार के ऊपर दर्शक दीर्घा का भी निर्माण कराये जाने के निर्देश दिये।

निरीक्षण के दौरान  उमेश प्रसाद, अन्तर्राष्ट्रीय तैराक एवं लक्ष्मण पुरस्कार से सम्मानित सदस्य द्वारा अवगत कराया गया कि डायविंग बोर्ड पर जाने हेतु कैप्सूल लिफ्ट का निर्माण कराया जाये। राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता कराये जाने हेतु इलेक्ट्रिानिक टचपैड लगाया जाये। इसके अतिरिक्त यह भी सुझाव दिया गया कि टायल्स लगाने में सावधानी बरती जाये ताकि डाईविंग बोर्ड की ऊंचाई प्रभावित न हों।

निरीक्षण के दौरान  अजय कुमार सेठी, क्षेत्रीय कीड़ाधिकारी  राजमणि, परियोजना प्रबन्धक, यूपीआरएनएन,  सोहन लाल, सहायक अभियन्ता,  उमेश प्रसाद, अन्तर्राष्ट्रीय तैराक तथा कान्ट्रक्टर तरणताल निर्माण आदि उपस्थिति थे।

Previous Post Next Post