मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुरू की यूपी में 'मेगा इन्वेस्टर समिट' की तैयारी



लखनऊ: (
मानवी मीडिया वैश्विक निवेशकों से मिलने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की यूरोप, यूएई और यूएसए की पहली यात्रा…ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुख्य अतिथि और 10,000 से अधिक हाई-प्रोफाइल प्रतिनिधियों की उपस्थिति, स्पेशल ड्रोन शो- आगामी फरवरी में लखनऊ में मेगा समिट के लिए ये सब योजनाएं बनाई जा रही हैं. मुख्यमंत्री ने 10 से 12 फरवरी, 2023 तक चलने वाले 3 दिवसीय इन्वेस्टर्स समिट के दौरान उत्तर प्रदेश में 10 लाख करोड़ रुपये का निवेश आकर्षित करने का एक बड़ा लक्ष्य तय किया है.

इसके लिए स्वयं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आगे से आकर नेतृत्व कर रहे हैं और समिट से पहले संभावित निवेशकों से व्यक्तिगत रूप से मिलने के लिए विदेश यात्रा पर जा रहे हैं. उत्तर प्रदेश सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी को बताया कि सीएम योगी के दुबई, लंदन और अमेरिका के कई शहरों- सैन फ्रांसिस्को, शिकागो और डलास जाने की अस्थायी योजना है.

दिसंबर के अंत या जनवरी की शुरुआत में मुख्यमंत्री के दौरे की योजना है. यदि सबकुछ तय योजना के तहत होता है तो यह पहली बार होगा जब योगी आदित्यनाथ गल्फ और यूरोप की यात्रा करेंगे. भगवाधारी मुख्यमंत्री की शिकागो यात्रा पर राजनीतिक गलियारों में करीबी नजर रहेगी, क्योंकि भारत शिकागो को स्वामी विवेकानंद की 1893 में विश्व धर्म संसद के लिए वहां की यात्रा से जोड़ता है, जहां उन्होंने भारत और हिंदू धर्म का प्रतिनिधित्व किया था. यूपी के मंत्री उत्तर प्रदेश में निवेश आकर्षित करने और राज्य में निवेश के लिए उपलब्ध अवसरों के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए इन्वेस्टर्स समिट के 18 भागीदार देशों का दौरा करेंगे और वहां रोड शो की एक श्रृंखला निकालेंगे.

मुख्य अतिथि के रूप में ​प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स इन्वेस्टर्स में मुख्य अतिथि होने की उम्मीद है, जिसमें 10,000 से अधिक हाई-प्रोफाइल प्रतिनिधि और आगंतुक शामिल होंगे. तीन दिवसीय कार्यक्रम में 20 सेक्टोरल सेशन, 18 भागीदार देशों का सत्र और क्यूरेटेड ड्रोन शो होंगे. समिट के तीनों दिन शाम के समय 600 ‘मेक इन इंडिया’ ड्रोन के साथ कम से कम 30 मिनट के 3 क्यूरेटेड 3डी ड्रोन लाइट शो की योजना बनाई गई है.

पर्यटकों के ठहरने के लिए 15 होटलों के साथ ही टेंट सिटी भी बनाई जाएगी. इस कवायद के लिए एक बड़ी इवेंट मैनेजमेंट एजेंसी को हायर किया जाएगा. एक सांसद के रूप में योगी आदित्यनाथ ने पहले कंबोडिया, मलेशिया, नेपाल, सिंगापुर, थाईलैंड और यूएसए का दौरा किया था. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में उन्होंने म्यांमार और रूस का दौरा किया है. यह पहली बार होगा जब योगी आदित्यनाथ किसी खाड़ी देश का दौरा करेंगे और यूरोप जाएंगे.

Previous Post Next Post