गाजियाबाद-नोएडा और लखनऊ की हवा खतरनाक, बरेली की हवा साफ


दिल्ली (
मानवी मीडिया हवा में जहर घुलने के बाद वहां के प्राइमरी स्कूलों को शनिवार को बंद रखने का आदेश दे दिया गया है। यूपी में भी प्रदूषण का स्तर कुछ कम नहीं है। नोएडा, गाजियाबाद के अलावा कानपुर का प्रदूषण भी बेहद खतरनाक स्तर पर पहुंच गया है। वहीं प्रदूषण को देखते हुए मेरठ में निर्माण कार्यों पर रोक लगा दी गई है। नोएडा में कक्षा आठ तक की पढ़ाई ऑनलाइन होगी। 

मेरठ में हवा खतरनाक स्तर पर पहुंच गई है। गुरुवार को गंगानगर और जयभीम नगर में पीएम-10 एवं पीएम-2.5 का स्तर अधिकतम सीमा 500 तक पहुंच गया था। शुक्रवार की सुबह भी यूपी के कई प्रमुख शहरों में प्रदूषण की इस खतरनाक स्थिति को दर्ज किया गया। शाम को भी स्थिति लगभग ऐसी ही रही है।

शाम पांच बजे गाजियाबाद के लोनी में वायु गुणवत्‍ता सूचकांक (एक्‍यूआई) 412 दर्ज किया जो खतरनाक श्रेणी में आता है। ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क थर्ड में एक्‍यूआई 446 तो कानपुर के नेहरू नगर में 450 पाया गया। आगरा के सेक्‍टर 38 आवास विकास कॉलोनी क्षेत्र में एकयूआई 259 दर्ज किया गया जो बहुत खराब श्रेणी में आता है। लखनऊ के तालकटोरा में 401 एक्‍यूआई दर्ज किया गया। नोएडा के सेक्‍टर 62 में 467 एक्‍यूआई पाया गया। 

शुक्रवार शाम पांच बजे यूपी के विभिन्न जिलों में दर्ज एक्यूआई

शहरस्थानAQIहवा कैसी है
आगरामनोहरपुर219खराब है
 रोहता257खराब है
 संजय पैलेस194अच्छी नहीं है
 आवास विकास कॉलोनी259खराब है
 शाहजहां गार्डेन273खराब है
 शास्त्रीपुरम196अच्छी नहीं है
बागपतकलेक्टर ऑफिसडाटा नहीं है 
 सरदार पटेल इंटर कॉलेज283खराब है
बरेलीसिविल लाइंस142अच्छी नहीं है
 राजेंद्र नगर79ठीक है
बुलंदशहरयमुनापुरम217खराब है
फिरोजाबादनगला भाऊ227खराब है
 विभब नगर244खराब है
गाजियाबादइंदिरापुरम392बहुत खराब है
 लोनी412खतरनाक है
 संजय नगर396बहुत खराब है
 वसुंधरा444खतरनाक है
गोरखपुरमदन मोहन मालवीय तकनीकी विश्वविद्यालय181अच्छी नहीं है
ग्रेटर नोएडानॉलेज पार्क 3446खतरनाक है
 नॉलेज पार्क 5402खतरनाक है
हापुड़आनंद विहार282खराब है
झांसीशिवाजी नगर256खराब है
कानपुरकिदवई नगर289खराब है
 आईआईटीडाटा नहीं है  
 कल्याणपुर314बहुत खराब है
 नेहरू नगर450खतरनाक है 
खुर्जाकालिंदी कुंज182अच्‍छी नहीं है
लखनऊआंबेडकर यूनिवर्सिटी266खराब है 
 सेंट्रल स्कूल232खराब है 
 गोमती नगर288खराब है
 कुकरैल196अच्छी नहीं है
 लालबाग360बहुत खराब है 
 तालकटोरा401खतरनाक है
मेरठगंगा नगरडाटा नहीं है 
 जय भीम नगरडाटा नहीं है 
 पल्लवपुरम295खराब है
मुरादाबादबुद्धि विहार95ठीक है
 इको हर्बल पार्क211खराब है
 रोजगार कार्यालय83ठीक है
 जिगर कॉलोनी81ठीक है
 कांशीराम नगर93ठीक है
 लाजपत नगरडाटा नहीं है 
 ट्रांसपोर्ट नगर98ठीक है
मुजफ्फरनगरनई मंडी344बहुत खराब है
नोएडासेक्टर 125351बहुत खराब है
 सेक्टर 62467खतरनाक है
 सेक्टर 1391बहुत खराब है
 सेक्टर 116417खतरनाक है 
प्रयागराजझूंसी214खराब है
 मोतीलाल नेहरू एनआईटी118अच्‍छी नहीं है
 नगर निगम229खराब है
वाराणसीअर्दली बाजार113अच्छी नहीं है
 भेलपुर169अच्छी नहीं है
 बीएचयू129अच्छी नहीं है
 मलदहिया138अच्छी नहीं है
वृंदावनओमेक्स इटर्निटी227खराब है
नोट- AQI केकिस रेंज का आपके लिए क्या मतलब हैनीचे का टेबलचेक कर लें

AQI का रेंजहवा का हालस्वास्थ्य पर संभावित असर 
0-50अच्छी हैबहुत कम असर
51-100ठीक हैसंवेदनशील लोगों को सांस की हल्की दिक्कत
101-200अच्छी नहीं हैफेफड़ा, दिल और अस्थमा मरीजों को सांस में दिक्कत
201-300खराब हैलंबे समय तक ऐसे वातावरण में रहने पर किसी को भी सांस में दिक्कत
301-400बहुत खराब हैलंबे समय तक ऐसे वातावरण में रहने पर सांस की बीमारी का खतरा
401-500खतरनाक हैस्वस्थ आदमी पर भी असर, पहले से बीमार हैं तो ज्यादा खतरा  
Previous Post Next Post