नेपाल चुनाव को लेकर बॉर्डर पर बढ़ी सतर्कता


महाराजगंज (मानवी मीडिया
नेपाल में आगामी 20 नवंबर को होने वाले राज्य और प्रतिनिधि सभा के चुनाव को मद्देनजर रखते हुए सीमा पर चौकसी बढ़ा दी गई है। आगामी 17 नवंबर की रात 12 बजे से 72 घंटे के लिए सीमा सील रहेगी। दोनों देशों के आला अधिकारियों ने शनिवार को हुई बैठक में ये निर्णय लिया।

नेपाल के रुपन्देही के छपिया स्थित एक होटल में शनिवार को दोनों देशों के बीच हाई लेवल बैठक हुई। इसमें सकुशल चुनाव कराने को लेकर अराजक तत्वों पर निगरानी रखने के लिए सीमा पर अतिरिक्त सुरक्षा बरतने का निर्णय लिया गया। मुख्य जिला अधिकारी भरतमणि पांडेय ने कहा कि मुख्य रूप से चुनाव के दौरान सीमा सील पर चर्चा हुई है। इसके अलावा तस्करी, आपराधिक गतिविधियों पर नियंत्रण, संयुक्त गश्त और द्विपक्षीय चिंताओं पर भी चर्चा हुई।

भरतमणि पांडेय कहा कि स्वच्छ, निष्पक्ष और भयमुक्त वातावरण में आगामी प्रतिनिधि सभा और प्रांतीय विधानसभा चुनाव कराने के लिए प्रशासन तैयार है। सीमा क्षेत्र में दोनों पक्ष कानून का पालन करेंगे, तुरंत सूचनाओं का आदान-प्रदान करेंगे और सभी प्रकार की अवैध गतिविधियों को नियंत्रित करेंगे। मतदान के पूर्व 72 घंटे तक दोनों पक्षों की ओर से सीमा बंद करने पर सहमति जताते हुए जन जागरूकता कार्यक्रम आयोजित करने का फैसला लिया गया। 

हथियारों की तस्करी, मादक पदार्थों की तस्करी, सीमा क्षेत्र में मानव तस्करी, निगरानी और सुरक्षा उपायों को अपनाने और जाली नोटों को नियंत्रित करने के मुद्दे पर दोनों ओर के अधिकारियों ने सख्ती बरतने की बात कही। नेपाल सीमा 17 नवंबर की रात 12 बजे से 20 नवंबर की रात 12 बजे तक 72 घंटे के लिए सील रहेगी। बैठक में महाराजगंज के डीएम सत्येंद्र कुमार, एसपी डॉ. कौस्तुभ, नेपाल की ओर से सहायक जिलाधिकारी रामचन्द्र आर्याल, एसपी रुपन्देही रविन्द्र रेग्मी सहित सशस्त्र पुलिस बल, एसएसबी और भारत-नेपाल की अन्य खुफिया एजेंसी के अधिकारी उपस्थित रहे।


Previous Post Next Post