जज के सामने पहली बार बोला श्रद्धा का कातिल आफताब, मैंने जो भी किया वो

 

नई दिल्ली (मानवी मीडिया): दिल्ली के छत्तरपुर इलाके में मुंबई की युवती श्रद्धा वालकर मर्डर केस में मंगलवार को आफताब ने सुनवाई के दौरान साकेत कोर्ट में जज के सामने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। अपना गुनाह कबूलते हुए आफताब कहा कि उसने जो कुछ किया वो गुस्से में किया। कोर्ट में बयान देने के दौरान उसके चेहरे पर अफसोस के निशान भी नहीं दिखाई दिए। इसी के चलते दिल्ली के साकेत कोर्ट ने आरोपी आफताब अमीन पूनावाला की पुलिस हिरासत 4 दिन के लिए बढ़ा दी है।

पिछले गुरुवार को कोर्ट ने आफताब से पूछताछ के लिए 5 दिन की पुलिस रिमांड की मंजूरी दी थी, जो आज खत्म होने वाली थी। कोर्ट ने अब उसे चार दिन और बढ़ा दिया है। आफताब को विशेष सुनवाई के तहत आज साकेत कोर्ट में पेश किया गया। इस दौरान आफताब ने जज के सामने कहा कि जो कुछ भी हुआ, वो HEAT OF THE MOMENT था यानी कि जो कुछ उसने किया वह गुस्से में किया।

सूत्रों के मुताबिक, आफताब ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि उसने श्रद्धा की हत्या करने में इस्तमाल की गई आरी और ब्लेड को गुरुग्राम की DLF फेज 3 की झाड़ियो में फेंका था। वहीं, शव को काटने में प्रयोग की गई आरी को उसने महरौली के 100 फीट रोड स्थित कूड़ेदान में फेंक दिया था। पुलिस खोजबीन कर रही है।

18 नवंबर को पुलिस ने गुरुग्राम के जंगल को खंगाला था और जांच के बाद दिल्ली पुलिस की टीम गुरुग्राम की झाड़ियो से कुछ सबूत लेकर निकली थी, जिसे CFSL की जांच के लिए भेजा गया है। इसके बाद 19 नवंबर की जांच में एक बार फिर दिल्ली पुलिस मेटल डिटेक्टर के साथ गुरुग्राम की जंगलों में गई थी, लेकिन उस दिन दिल्ली को कुछ नहीं मिला था।

अब सबकी नजरें आफताब की पॉलिग्राफ और नार्को टेस्ट पर टिकी हैं, जिसमें आफताब अपने जुर्म के बारे में सच्चाई उगलने वाला है, पुलिस ने टेस्ट की तैयारी कर ली है।

Previous Post Next Post