क्लास में टीचर से छात्रों ने की अश्लील हरकत, छेड़खानी करने का वीडियो वायरल

लखनऊ (मानवी मीडिया)- छात्रों और मनचलों द्वारा राह चलती लड़कियों से छेड़खानी की खबरें तो आपने बहुत बार सुनी होंगी, लेकिन यूपी के मेरठ में जो मामला सामने आया है उसने गुरु और शिष्य के रिश्ते पर मानो ग्रहण लगा दिया हो। हम बात कर रहे हैं कुछ छात्रों की जो आए दिन क्लास में आकर शिक्षिका को परेशान करते हैं। यहां तक कि ये छात्र शिक्षिका को आईलवयू बोलने तक से बाज नहीं आते। प्रार्थना सभा हो या फिर पढ़ाई का समय, ये छात्र शिक्षका से अक्सर छेड़खानी और फब्तियां कसते रहते हैं। हद तो तब हो गई जब इन छात्रों ने शिक्षिका का छेड़छाड़ करते हुए का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। इसके बाद से शिक्षिका डिप्रेशन में है। शिक्षिका ने आरोपी छात्रों के खिलाफ थाने में एफआईआर दर्ज करवा दी है

मामला मेरठ जिले के थाना किठौर क्षेत्र के राम मनोहर लोहिया इंटर कॉलेज का है। जानकारी के अनुसार इस स्कूल में पढ़ने वाले 12वीं के तीन छात्र ऐसे हैं जो अपनी ही क्लास में पढ़ाने वाली शिक्षिका को आए दिन छेड़ते रहते हैं। कभी क्लास में आईलवयू बोलते हैं तो कभी प्रार्थना सभा के उन पर अश्लील कमेंट पास करते हैं। शिक्षिका के अनुसार छात्रों की इस हरकत से वह काफी परेशान हो चुकी हैं। छात्रों ने एक दिन उनसे छेड़छाड़ की और उसका वीडियो बना लिया। इसके बाद छात्रों ने छेड़छाड़ वाला वीडियो वायरल कर दिया। इसके बाद शिक्षिका डिप्रेशन में चली गई। छात्रों की इस हरकत से परेशान होकर शिक्षिका ने पुलिस की मदद ली और एफआईआर दर्ज करा दी।

शिक्षिका ने क्या लिखाई एफआईआर

पीड़ित शिक्षिका ने तहरीर देते हुए बताया कि वह एक इंटर कॉलेज में पढ़ाती है। पिछले कुछ दिनों से इंटरमीडिएट की एक छात्रा और तीन छात्र शिक्षिका से अध्यापन के दौरान और कॉलेज आते-जाते समय हंसी-मजाक और अश्लील कमेंट करते है। शिक्षिका ने इसकी शिकायत कॉलेज प्रबंधन से भी कई बार की लेकिन किसी ने सुनवाई नहीं की। इसके बाद तीनों छात्रों ने छात्रा के सहयोग से शिक्षिका से अश्लीलता करने का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। इसकी जानकारी शिक्षिका को लगी तो उसने आरोपियों के परिजनों से शिकायत की लेकिन उन्होंने अनसुना कर दिया। शिक्षिका ने कहा कि उसने गत 12 नवंबर को प्रधानाचार्य से छात्रों की शिकायत की थी। कक्षा बदलने के लिए प्रार्थना पत्र भी दिया था। इस पर कुछ नहीं हुआ। इंस्पेक्टर अरविंद मोहन शर्मा का कहना है कि पुलिस आरोपियों को शीघ्र ही हिरासत में लेगी।

छात्रों का क्लास में फोन ले जाना प्रबंधन की ढिलाई

ग्रामीणों का कहना है कि कॉलेज में कुछ छात्र दबंगई करते हैं। क्लास में मोबाइल से वीडियो बनाना इस बात का प्रमाण है कि छात्रों पर कॉलेज प्रबधन अंकुश लगाने में असमर्थ है जिससे छात्रों के हौसले बुलंद है। अगर प्रबंधन शिकायत पर कार्रवाई करता तो वीडियो वायरल नहीं होती।

Previous Post Next Post