8वीं के स्टूडेंट ने रसोई की वेस्ट सब्जी और घास से तैयार किया कागज


मेरठ (मानवी मीडियाआज के दौर की बात की जाए तो युवा सोशल मीडिया का उपयोग अधिकतर करते हैं. हालांकि इससे कई बार उनके माता-पिता परेशान भी हो उठते हैं. इस बीच मेरठ के एक युवा ने यूट्यूब को देखकर खास कागज बनाया है. अगर भविष्य में उस विधि से कार्य होने लगे तो पेड़ों का दोहन रुक जाएगा. दरअसल केएल इंटरनेशनल स्कूल के कक्षा 8वीं के छात्र दिव्यम ने रसोई की वेस्ट सब्जी व घास से कागज का निर्माण किया है.

कागज पर मार्कर से लिखना संभव
कागज तैयार होने के बाद दिव्यम ने सोचा कि क्यों ना इस पर लिख कर भी देखा जाए, तो उन्होंने सबसे पहले पेंसिल से लिखकर देखा. मगर लिख नहीं पाए, तो उसके बाद मार्कर का उपयोग किया. दिव्यम बताते हैं कि अगर सही तरीके से इस कागज की मैन्युफैक्चरिंग की जाए तो इस पर पेन से लिखा जा सकता है.

 इस विधि पर और कार्य करेंगे. इसके लिए वह फूलों की पत्तियों का चुनाव करेंगे, जिससे रंग बिरंगे कागज बना सकें. वहीं, दिव्यम का सपना है कि पेड़ों के कटान के माध्यम से जो कागज बनाया जाता है. वह बंद हो. वहीं, वेस्ट मटेरियल का उपयोग कर कागज बनाने की विधि में आगे बढ़े, तो सबको फायदा होगा.


Previous Post Next Post