यूपी में IAS अधिकारियों की कमी; 'घर वापसी', कारण पर किया जा रहा है मंथन


लखनऊ: (मानवी मीडिया उत्तर प्रदेश में अपर मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव रैंक के अफसरों की कमी और कई अफसरों के रिटायरमेंट को देखते हुए केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर तैनात भारतीय प्रशासनिक सेवा के तीन IAS यूपी लौटेंगे। प्रमुख सचिव रैंक के इन अफसरों की जल्द इनकी यूपी में वापसी हो सकती है। इस संबंध में जल्द फैसला होने की उम्मीद है।

इन अफसरों में लीना जौहरी, आशीष गोयल, भुवनेश कुमार शामिल हैं। लीना मौजूदा समय में केंद्र सरकार के ग्रामीण विकास मंत्रालय में अपर सचिव और वित्तीय सलाहकार के पद पर तैनात हैं। आशीष गोयल ग्रामीण विकास मंत्रालय में अपर सचिव और भुवनेश कुमार सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय में अपर सचिव के पद पर तैनात हैं। लीना सितंबर, 2018 में, आशीष गोयल मार्च, 2020 में और भुवनेश कुमार जून, 2021 में केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर गए थे। वहीं, 1995 बैच के अफसर मुकेश मेश्राम को केंद्र में तैनाती मिली है। मगर उन्हें राज्य सरकार ने रिलीव नहीं किया है।

कई अफसर हो रहे रिटायर
आईएएस अफसर डिंपल वर्मा सितंबर में रिटायर हो रही हैं। अपर मुख्य सचिव राजन शुक्ला नवंबर में रिटायर हो रहे हैं। 2023 में भी कई सीनियर आईएएस अफसर रिटायर हो रहे हैं। यूपीएसआरटीसी के चेयरमैन राजेंद्र तिवारी फरवरी में रिटायर हो रहे हैं। आईआईडीसी अरविंद कुमार और अराधना शुक्ला का रिटायरमेंट भी फरवरी में है। अपर मुख्य सचिव खेल नवनीत सहगल जुलाई में और राजस्व परिषद अध्यक्ष संजीव मित्तल अगस्त में रिटायर होंगे।

अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव के 22 अफसर दिल्ली में

मौजूदा समय प्रदेश के अपर मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव रैंक के 22 अफसर केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर हैं। इनमें शालिनी प्रसाद, आलोक टंडन, अरुण सिंघल, लीना नंदन, सुनील कुमार, आलोक कुमार, जूथिका पाटणकर, राधा एस चौहान अपर मुख्य रैंक के अफसर हैं। अर्चना अग्रवाल, निवेदिता शुक्ला वर्मा, कामरान रिजवी, लीना जौहरी, अमित कुमार घोष, आशीष कुमार गोयल, भुवनेश कुमार, मृत्युजंय नारायण, संतोष कुमार यादव, आमोद कुमार, धीरज साहू, नीतीश्वर कुमार, अनीता सी मेश्राम, हिकाली जिमोमी, कामिनी चौहान रतन प्रमुख सचिव रैंक के अफसर हैं।

Previous Post Next Post