भारतीय कंपनियां’ सरकारों से नहीं, बाज़ार से तेल खरीदतीं

नई दिल्ली (मानवी मीडिया): भारत ने रूस से तेल खरीदने के मामले में पश्चिमी देशों की आलोचना को खारिज करते हुए आज दोहराया कि देश की ऊर्जा सुरक्षा के लिए भारतीय तेल कंपनियां अंतरराष्ट्रीय बाज़ारों से पेट्रोलियम पदार्थ खरीद रहीं हैं और ये खरीद सरकारों के बीच नहीं हो रही है।

विदेश सचिव विनय मोहन क्वात्रा ने आज यहां एक संवाददाता सम्मेलन में रूस के तेल पर जी-7 देशों द्वारा मूल्य नियंत्रण लागू करने के बारे में एक सवाल के जवाब में कहा, भारत जी-7 का सदस्य नहीं है। रूस के तेल पर मूल्य नियंत्रण यानी अधिकतम मूल्य तय करने के बारे में वे ही ज़्यादा अच्छे से बता सकते हैं जिन्होंने इसे सोचा है।”

क्वात्रा ने कहा, जहां तक भारत की बात है तो हमने कई बार कहा है कि जब भी भारतीय कंपनियां बाहर जातीं हैं और भारत की ऊर्जा सुरक्षा जरूरतों को पूरा करने के लिए तेल या पेट्रोलियम पदार्थ बाज़ार से ही खरीदती हैं। ये सौदे सरकारों के बीच नहीं किये जाते हैं।

Previous Post Next Post