सोनाली फोगाट के ड्राइवर का दावा- ‘बेटी की फीस के लिए भी मैडम के पास नहीं थे पैसे


मुंबई (मानवी मीडिया
‘बिग बॉस’ की पूर्व कंटेस्टेंट और बीजेपी नेता सोनाली फोगाट की मौत से जुड़े हर दिन नए खुलासे हो रहे हैं। इस मामले की जांच गोवा पुलिस कर रही है। सोमवार की रात को पुलिस उनके नोएडा स्थित फ्लैट पर पहुंची और फ्लैट में रह रहे किराएदारों से पूछताछ की गई। पुलिस ने अभी तक इस मर्डर केस में 5 लोगों की गिरफ्तारी की है जिसमें उनका पीए सुधीर सांगवान भी है। सोनाली के परिजनों को संदेह है कि हत्या में सुधीर का बड़ा हाथ है। अब सोनाली के ड्राइवर रहे उमेद सिंह ने सुधीर पर गंभीर आरोप लगाए। उमेद ने बताया कि सोनाली जिन महंगी गाड़ियों में घूमती थीं वो उनके नाम पर नहीं थी बल्कि सुधीर ने अपने नाम पर ट्रांसफर करा लिया था।

पैसों का सारा हिसाब-किताब देखता था सुधीर

सोनाली के पैसों का सारा काम सुधीर ही देखता था। ड्राइवर ने दावा किया कि सोनाली के खाते में उनकी बेटी की फीस भरने तक के पैसे नहीं थे। सोनाली कहीं आने जाने के लिए 4 कारों का इस्तेमाल करती थीं। इन कारों का अभी पता नहीं चला है। सोनाली के नाम इनमें से कोई कार नहीं थी। एक कार सुधीर सांगवान के नाम पर और 3 कारों के मालिक अन्य लोग थे। 

कार पर लोन था बकाया

आज तक से बात करते हुए सोनाली के ड्राइवर ने कहा कि उसने उनकी स्कॉर्पियो और स्कोडा गाड़ी चलाई थी। सुधीर ने बताया था कि एक मर्सिडीज का एक्सीडेंट हो गया जिसकी वजह से वह दिल्ली की किसी एजेंसी के पास है। सोनाली के पास जो स्कॉर्पियो थी उसे सुधीर ने 8 लाख रुपये में बेच दिया था और फिर उसने 3.50 लाख में सफारी कार ली। आगे ड्राइवर ने बताया कि इस बात की जानकारी उसे बाद में हुई कि मर्सिडीज पर 10-12 लाख रुपये का लोन बाकी है। लोन वाले फोन करते थे। यही वजह थी कि सुधीर ने उस कार को कहीं छिपा दिया था। सुधीर गाड़ियों के कागज संबंधी सारे काम में लापरवाही बरतता था।वह गाड़ियों का बीमा नहीं करवाता था और ना ही पॉल्यूशन सर्टिफिकेट होता था। उसने ड्राइवर के भी 20 हजार रुपये अभी तक नहीं दिए। 

चेक हो गया था बाउंस

सोनाली की जिंदगी बाहर से देखने में ऐशो आराम भरी लगती थी लेकिन उनके खाते में पैसे नहीं होते थे। ड्राइवर ने कहा, ‘सुधीर ही हिसाब किताब रखता था। मैडम के खाते में तो उनकी बेटी की स्कूल फीस देने के लिए भी पैसे नहीं होते थे।‘ ड्राइवर ने बताया कि मैडम उसकी गाड़ी में थीं तभी स्कूल से फीस के लिए फोन आया। उन्हें बताया गया कि उनका चेक बाउंस हो गया। इस वजह से उन पर पेनल्टी लगेगी। 

भाई ने भी ड्राइवर की बातें दोहराईं

ड्राइवर ने जो बातें बताई हैं सोनाली के भाई वतन ढाका ने भी यही बातें कही हैं। वतन ढाका ने इंटरव्यू में कहा कि उनकी बहन के नाम कार नहीं थी। उन्होंने गुरुग्राम वाले फ्लैट को लेकर भी आशंका जताई कि वो किसके नाम पर है।  


Previous Post Next Post