संसद में नेताओं का माइक बंद कर दिया जाता है, हमें बोलने नहीं दिया जाता : राहुल गाँधी

नई दिल्ली (मानवी मीडिया): आज कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने दिल्ली के रामलीला मैदान में महंगाई के खिलाफ हल्ला बोल रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने केंद्र की सत्ताधारी पार्टी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा इसलिए शुरू की जा रही है क्योंकि हमारे सभी रास्ते बंद कर दिए गए हैं। इसके साथ ही राहुल ने दूसरे दलों को एक संदेश दे दिया है।

राहुल ने कहा कि हमारे लिए सरकार ने सभी रास्ते बंद कर दिए हैं। संसद में विपक्ष के नेताओं का माइक बंद कर दिया जाता है, हमें बोलने नहीं दिया जाता। चुनाव आयोग, न्यायपालिका पर सरकार का दबाव बना हुआ है। इसलिए अब हम जनता के बीच में जाकर, जनता को देश की सच्चाई बताएंगे। इसीलिए कांग्रेस पार्टी भारत जोड़ो यात्रा शुरू कर रही है। वहीं, राहुल गांधी के ‘विपक्ष’ शब्द के इस्तेमाल को लेकर दूसरे दलों के नेताओं को संदेश माना जा रहा है कि 2024 के चुनाव में बीजेपी को हराने के लिए सभी दलों को एकसाथ आना होगा। इस मौके पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ईडी द्वारा की कार्रवाई पर भी मोदी सरकार को घेरा और कहा कि मुझसे 55 घंटे पूछताछ हुई। 55 घंटे क्या, 500 घंटे, पांच साल भी पूछताछ कर लो, मुझे फर्क नहीं पड़ता।

राहुल ने आगे कहा, नफरत डर से पैदा होती है। जो डरता है वह नफरत पैदा करता है। भाजपा और आरएसएस के नेता देश को बांटते हैं और जानबूझकर देश में नफरत और भय पैदा करते हैं। उन्होंने कहा, यह नफरत ही हिंदुस्तान को कमजोर कर रही है। उन्होंने सवाल किया महंगाई, बेरोजगारी, नफरत से मजबूत होता है क्या? नरेंद्र मोदी और भाजपा देश को कमजोर करने का काम कर रहे हैं। हम नफरत मिटाते हैं और जब डर कम होता है तो हिंदुस्तान तेजी से आगे बढ़ता है। हमने यह करके दिखाया है।

Previous Post Next Post