सीएम योगी के काफिले के सामने आ गया युवक ; जौनपुर में काला झंडा लेकर अचानक


जौनपुर (मानवी मीडियासीएम योगी आदित्‍यनाथ शुक्रवार को जौनपुर और गाजीपुर के दौरे पर हैं। इस बीच जौनपुर में उमानाथ सिंह मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण कर निकल रहे सीएम योगी आदित्‍यनाथ के काफिले के सामने अचानक एक युवक काला झंडा लेकर आ गया। पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है। 

बताया जा रहा है कि हंगामा करने वाला युवक समाजवादी पार्टी से जुड़ा है। उसने खुद का नाम आशीष मुलायम बताया। काफिले के सामने आने के दौरान उसने 'अखिलेश यादव जिंदाबाद' के नारे भी लगाए। उसने कहा कि वह एक छात्रनेता है। 

उधर, सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने जौनपुर में 258 करोड़ रुपए की 90 परियोजनाओं का शिलान्‍यास और 26 परियोजनाओं का लोकार्पण किया। उन्‍होंने वहां पूर्वांचल विश्‍वविद्यालय में सभा को सम्‍बोधित करते हुए कहा यूपी की पिछली सरकारों पर जमकर हमला बोला। सीएम योगी ने कहा कि यूपी में पिछली सरकारों ने जमकर भ्रष्‍टाचार किया। उन्‍होंने कहा कि प्रदेश में आज विकास के लिए इमानदारी से प्रयास किया जा रहा है। पिछली सरकारों में पदों पर बैठे लोगों ने खुद के फायदे के लिए गुंडों और गुर्गों को बढ़ावा दिया।

सीएम ने कहा कि आज उत्‍तर प्रदेश दंगामुक्‍त है। यूपी में अपराधियों के लिए कोई जगह नहीं है। 2017 से पहले यूपी में विकास के नाम पर लोगों के साथ छलावा होता था। 

मेडिकल कॉलेज में खामियों पर सीएम ने जताई नाराजगी 
सीएम योगी आदित्यनाथ शुक्रवार की सुबह 10.08 बजे उमानाथ सिंह राज्य चिकित्सालय महाविद्यालय में पहुंचे। उन्होंने मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण करते हुए खामियां मिलने पर नाराजगी जाहिर की और जिम्मेदारों को फटकार लगाई। उन्होंने साइड लेआउट देखा, भवनो का निरीक्षण किया। लेक्चरर भवन देखा। इसके अलावा बच्चों से बातचीत की तैयारी एव निर्माण कार्य के बारे में सबसे जानकारी ली। इस दौरान मेडिकल कॉलेज के निर्माण कार्य के लचर व्यवस्था देख कर नाराजगी भी जाहिर की। 

सीएम ने जिम्मेदारों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए और कहा जिस किसी की भी कमी पाई जाएगी उसे बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा बजट की कमी आड़े नहीं आएगी। इसके बाद उन्होंने एमबीबीएस के छात्रों से बात की पठन-पाठन के बारे में पूछा संसाधन व्यवस्था के बारे में पूछा। जिसमें छात्रों ने कई समस्याओं को उनसे बताया। छात्रों की समस्या सुनकर मुख्यमंत्री प्रिंसिपल से जानकारी लेने लगे।

प्रिंसिपल शिवकुमार बगले झांकने लगे। इस पर उन्होंने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि व्यवस्थाओं को तुरंत होना चाहिए अन्यथा कार्रवाई होगी। उन्होंने बच्चों को आश्वासन दिया उन्हें किसी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा और जल्द ही सारी व्यवस्थाएं हो जाएंगी। 

Previous Post Next Post