सुरेश रैना ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से लिया संन्यास

नई दिल्ली (मानवी मीडिया): टीम इंडिया के पूर्व बाएं हाथ के बल्लेबाज सुरेश रैना ने अब क्रिकेट के हर प्रारूप से रिटायरमेंट का ऐलान कर दिया है। रैना को क्रिकेट खेलने के लिए ही क्रिकेट से रिटायरमेंट की घोषणा करनी पड़ी है। इस एक वाक्य में बहुत कुछ छिपा है। रैना ने फिलहाल के लिए भारतीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की है। वे अब भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआई से संबद्ध रखने वाले किसी टूर्नामेंट में नहीं खेलेंगे।

बाएं हाथ के बल्लेबाज और मिस्टर आईपीएल के नाम से फेमस सुरेश रैना ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि अपने देश और राज्य यूपी का प्रतिनिधित्व करना एक परम सम्मान की बात है। मैं क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा करना चाहता हूं। मैं बीसीसीआई, यूपीसीए, चेन्नई सुपर किंग्स, राजीव शुक्ला सर और मेरे सभी प्रशंसकों का उनके समर्थन और मेरी क्षमताओं में अटूट विश्वास के लिए उनका धन्यवाद करना चाहूंगा।

दरअसल, सुरेश रैना अलग-अलग लीग में खेलना चाहते हैं और वे 10 सितंबर से शुरू हो रही रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज का भी हिस्सा होंगे। हालांकि, बीसीसीआई की पॉलिसी कहती है कि वो खिलाड़ी जो किसी भी प्रकार से बीसीसीआई से जुड़ा है, वो किसी भी विदेशी लीग या फिर किसी अन्य टूर्नामेंट में नहीं खेल सकता। बीसीसीआई किसी भी क्रिकेटर को अन्य टूर्नामेंट या लीग में खेलने की अनुमति नहीं देती है।

सुरेश रैना को भी क्रिकेट खेलने के लिए ही क्रिकेट से रिटायरमेंट की घोषणा करनी पड़ी है। रैना अब दुनिया की किसी भी टी20 या टी10 लीग में खेल सकते हैं और वे किसी अन्य टूर्नामेंट में भी प्रतिनिधित्व कर सकते हैं। ऐसे में वे अब कभी आईपीएल में भी खेलते हुए नजर नहीं आएंगे। 15 अगस्त 2020 को सुरेश रैना ने इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहा था, जब एमएस धोनी ने रिटायरमेंट का ऐलान किया था।

रैना आईपीएल 2020 में नहीं खेले थे, लेकिन 2021 के सीजन में वे चेन्नई सुपर किंग्स का हिस्सा थे। हालांकि, आईपीएल 2022 के मेगा ऑक्शन से पहले न तो चेन्नई सुपर किंग्स ने उन्हें रिटेन किया था और न ही किसी टीम ने उनको खरीदा था। ऐसे में वे कमेंटेटर के तौर पर आईपीएल में जुड़े थे और क्रिकेट की दुनिया से दूर हो गए थे। हालांकि, वे अभी भी क्रिकेट खेलना चाहते हैं, लेकिन भारत में बीसीसीआई से जुड़े टूर्नामेंट में उनको मौका नहीं मिल रहा। ऐसे में उन्होंने भारतीय क्रिकेट से रिटायरमेंट लेकर विदेशी लीग में खेलने की इच्छा जताई है।

Previous Post Next Post