महिला की हत्या की रिपोर्ट हुई थी दर्ज, 17 महीने बाद मायके में जिंदा मिली


कानपुर (मानवी मीडिया जिस महिला को मरा समझकर परिजनों ने पति के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई थी, वह उन्नाव स्थित अपने मायके में जिंदा मिली। पति की शिकायत के बाद पुलिस ने महिला को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की है।


बादशाहीनाका निवासी मोहम्मद गुलाब की पत्नी सीमा (30) उर्फ मन्नी मार्च 2021 में लापता हो गई थी। जिस पर गुलाब ने बादशाहीनाका थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी। उधर मार्च में ही सनिगवां में एक महिला की हत्या कर शव कथरी में लपेटकर फेंका गया था।

छह माह बाद अक्तूबर में जब अज्ञात शव मिलने की जानकारी सीमा के पिता उन्नाव गंजमुरादाबाद निवासी मोहम्मद हनीफ को हुई, तो उन्होंने चकेरी थाने आकर कपड़ों से मृतका की पहचान बेटी के रूप में की थी। साथ ही दामाद मोहम्मद गुलाब और उसके ससुरालीजनों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था।

इसके बाद पुलिस ने डीएनए जांच के लिए सैंपल भेजे थे। मोहम्मद गुलाब ने बताया कि करीब तीन दिन पहले रिश्तेदारों के माध्यम से पत्नी के मायके में होने की जानकारी हुई। यह भी पता चला कि वह अपने प्रेमी के साथ गुजरात में रह रही थी। कुछ दिन पहले उन्नाव आई है।

उन्होंने पूरे घटनाक्रम की जानकारी उन्नाव पुलिस को दी। पुलिस ने सीमा को हिरासत में लेकर चकेरी पुलिस के सुपुर्द किया। पुलिस उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की कर रही है। वहीं फोरेंसिक टीम एक बार फिर अक्तूबर में मिली लाश की जांच नए सिरे से शुरू करने जा रही है। 
Previous Post Next Post