STF ने फर्जी वेबसाइट एवं साफ्टवेयर से आधार कार्ड बनाने वाला को किया गिरफ्तार

लखनऊ (मानवी मीडिया) फर्जी वेबसाइट एवं साफ्टवेयर के माध्यम से आधार कार्ड बनाने के साफ्टवेयर को बाइपास कर फर्जी आधार कार्ड बनाने वाले एवं आधार कार्ड में संशोधन  करने वाले संगठित गिरोह का मास्टरमाइंड कानपुर से गिरफ्तार, भारी मात्रा में फर्जी आधार कार्ड बनाने के उपकरण बरामद।

 एस0टी0एफ0, उत्तर प्रदेश को https://adharucl. tech/as/login (वेबसाइट) व https://www.bsaver.online/aadhaarnputSetup. exe (साफ्टवेयर डाउनलोडिंग लिंक) फर्जी वेबसाइट एवं साफ्टवेयर के माध्यम से आधार कार्ड बनाने के साफ्टवेयर को बाइपास कर फर्जी आधार कार्ड बनाने वाले एवं आधार कार्ड में संषोधन करने वाले संगठित गिरोह के मास्टरमाइंड को कानपुर से गिरफ्तार कर भारी मात्रा में फर्जी आधार कार्ड बनाने के उपकरण बरामद करने मंे उल्लेखनीय सफलता प्राप्त हुई।

*गिरफ्तार अभियुक्त का विवरणः-*

1- अनिल कुमार गौतम पुत्र महादेव गौतम, निवासी ग्राम व पोस्ट गौरियपुर, थाना कोतवाली अकबरपुर, जनपद-कानपुर देहात।

*बरामदगी-*

1- 08 अदद एटीएम कार्ड।

2- 12 अदद कूटरचित आधार कार्ड।

3- 01 अदद पैनकार्ड।

4- 01 अदद निर्वाचन कार्ड।

5- 01 अदद ईटीवी इंडिया प्रेस कार्ड।

6- 01 अदद मोबाईल फोन।

7- 01 अदद चेक।

8- 01 अदद चेक बुक।

9- 06 अदद आधार इनरोलमेंट/करेक्शन/अपडेट फार्म।

10- 11 अदद सर्टिफिकेट फार आधार इनरोलमेंट/अपडेट।

11- 03 अदद रजिस्टर।

12- 08 अदद मोहर।

13- 01 अदद लैपटाप।

14-  01 अदद फिंगर प्रिंट स्कैनर।

15-   01 अदद रेटिना स्कैनर।

16-   01 अदद थम्ब स्कैनर।

17-   01अदद लाइव कैमरा।

18-   01 अदद जीपीएस डिवाइस।

19-   02 अदद प्रिंटर।

20-   410 रूपये नकद।

*गिरफ्तारी का दिनांक, स्थान व समयः*

दिनांकः 26-08-2022 स्थानः विश्व बैंक कालोनी गुरूदेव टावर बर्रा कानपुर नगर समयः  10ः30 बजे।

एस0टी0एफ0, उत्तर प्रदेश को विगत काफी समय से फर्जी वेबसाइट एवं साफ्टवेयर के माध्यम से आधार कार्ड बनाने वाले साफ्टवेयर को बाइपास कर फर्जी आधार कार्ड बनाने वाले एवं आधार कार्ड में संशोधन कर ठगी करने वाले संगठित गिरोह के सक्रिय होने की सचूनाएं प्राप्त हो रही थी। इस सम्बन्ध में एसटीएफ उ0प्र0 की विभिन्न टीमांे/इकाईयों को आवश्यक कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया था। जिसके क्रम में श्री विशाल विक्रम सिंह, प्रभारी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, एस0टी0एफ0, उ0प्र0 के पर्यवेक्षण मे एस0टी0एफ0 मुख्यालय स्थित साइबर टीम द्वारा अभिसूचना संकलन की कार्यवाही प्रारम्भ की गयी तथा अभिसचूना तन्त्र को सक्रिय किया गया।  

अभिसूचना संकलन के दौरान ज्ञात हुआ किhttps://adharucl. tech/as/login व https://www.bsaver.online/aadhaarnputSetup.exe  फर्जी वेबसाइट व साफ्टवेयर के माध्यम से अनाधिकृत तरीके से आधार कार्ड बनाने वाले साफ्टवेयर को बाइपास कर फर्जी आधार कार्ड बनाने वाला एक गिरोह कानपुर के बर्रा थाना क्षेत्र में सक्रिय है। इस सूचना पर उप निरीक्षक श्री मनोज सिंह के नेतृत्व में साइबर टीम एसटीएफ लखनऊ द्वारा उपरोक्त प्रकरण पर तकनीकी एवं मुखबिर के माध्यम से सूचना संकलित करते हुए दिनांक 26-08-2022 को उक्त संगठित गिरोह के मास्टरमाइण्ड अनिल कुमार को कानपुर नगर से गिरफ्तार कर लिया गया, जिससे उपरोक्त बरामदगी हुई।  

पूछताछ मे गिरोह के मास्टरमाइंड अनिल कुमार गौतम ने बताय कि वर्ष-2021 में मैने जीडीजी इंडिया साफ्टवेयर सल्यूशन प्रा0लि0 नाम की कम्पनी खोली। जिसकी आड में मैhttps://adharucl.tech/as/login व  https://www.bsaver.online/ aadhaarnputSetup.exe  के माध्यम से फर्जी तरीके से जनता के व्यक्तियों का आधार कार्ड बनाता हूँ । जबकि www.uidai.gov.in  आधार विभाग की आधिकारिक वेबसाइट है। https://adharucl.tech/as/login व  https://www.bsaver.online/ aadhaarnputSetup.exe  मुझे यह वेबसाइट व साफ्टवेयर अमन उर्फ संदीप उर्फ हिमांशू निवासी लखनऊ एवं गुलाम बोस उर्फ पीयूष निवासी झारखण्ड द्वारा उपलब्ध करायी गयी है। इस वेबसाइट के माध्यम से फर्जी व कूटरचित आधार कार्ड बनाने व संशोधन करने का कार्य मै अपने लैपटाप के माध्यम से करता हूॅ। मै उपरोक्त वेबसाइट व साफ्टवेयर 1. हिमान्शू राज पाण्डेय पुत्र जय प्रकाश पाण्डेय निवासी कमलनाथ नगर वार्ड नम्बर 23 थाना कोतवाली नगर जनपद बेतिया (बिहार), 2. गुफरान जावेद पुत्र रईसुद्दीन निवासी बैगना किशनगंज जिला किशनगंज (बिहार) 3. गुलाब पासवान पुत्र रामकुमार पासवान निवासी वार्ड नम्बर 01 चॉनन कैण्ट जनपद मधुबनी, (बिहार) 04. सोनू कुमार साह पुत्र लल्लन साह निवासी मटरिया पश्चिमी चम्पारन (बिहार) 05. सत्यप्रकाश सिसोदिया लखनऊ। 06. आनन्द कुमार मोहन मुजफ्फरपुर (बिहार) 07. राहुल कुमार नोएडा 08. नरेन्द्र कुमार उन्नाव 09- बाबूराम यादव जनपद बस्ती व इनके अतिरिक्त कई अन्य व्यक्तियों को 20 से 30 हजार रूपये में बेच रखा है। मैने एनीडेस्क व टीमव्यूवर के माध्यम से उनके कम्प्यूटर व लैपटाप को रिमोट एक्सेस पर लेकर चाइल्ड इनरोलमेंट व आधार करेक्शन साफ्टवेयर उनके कम्प्यूटर/लैपटाप में लिंक के माध्यम से इंस्टाल किया है। जिसके माध्यम से वह लोग भी आधार कार्ड बनाते है। 

गिरोह के अन्य सदस्यों की गतिविधियों व उनके द्वारा फर्जी तरीके से बनाये गये आधार कार्ड के सम्बन्ध में UIDAI से जानकारी प्राप्त कर उनकी गिरफ्तारी के प्रयास किये जा रहे हैं। बरामद इलेक्ट्रानिक उपकरणों का फारेंसिक परीक्षण कराया जायेगा।

गिरफ्तार अभियुक्त के विरूद्ध थाना बर्रा, कमिश्नरेट कानपुर नगर में मु0अ0सं0 606/2022 धारा 419, 420, 467, 468, 471, 120बी भा0द0वि0 व 66सी, 66डी सूचना प्रोद्यौगिकी अधि0 तथा धारा 36/42 आधार अधिनियम 2016 का अभियोग पंजीकृत कराया गया है। अग्रेतर विधिक कार्यवाही स्थानीय पुलिस द्वारा की जा रही है।

Previous Post Next Post