ममता कैबिनेट में बड़ा फेरबदल, 9 नए चेहरे हुए शामिल

कोलकाता (मानवी मीडिया): मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली पश्चिम बंगाल सरकार में बुधवार को नौ नए मंत्री शामिल किए गए, जिनमें पांच कैबिनेट मंत्री, दो स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री और दो राज्य मंत्री हैं। हालांकि,  ममता बनर्जी ने अभी तक इन मंत्रियों के लिए विभागों की घोषणा नहीं की है।

राज्यपाल ला गणेशन ने जिन पांच कैबिनेट मंत्रियों को शपथ दिलाई उनमें पश्चिम बर्दवान जिले के दुगार्पुर-पूर्व से तृणमूल कांग्रेस के विधायक प्रदीप मजूमदार, कोलकाता के बालीगंज विधानसभा क्षेत्र से बाबुल सुप्रियो, कूचबिहार के दिनहाटा से उदयन गुहा, नैहाटी से पार्थ भौमिक, उत्तर 24 परगना और हुगली जिले के जंगीपारा से स्नेहासिस चक्रवर्ती शामिल हैं। पश्चिम बंगाल में तृणमूल के सत्ता में आने के बाद से मजूमदार राज्य सरकार के प्रमुख कृषि सलाहकार के रूप में काम कर रहे थे। वे बनर्जी के करीबी विश्वासपात्र हैं।

गायक से नेता बने बाबुल सुप्रियो पश्चिम बर्दवान जिले के आसनसोल से दो बार भाजपा के लोकसभा सदस्य थे और नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार में केंद्रीय मंत्री भी थे। हालांकि, 2021 के बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद वे भाजपा छोड़ तृणमूल में शामिल हो गए और सांसद पद से भी इस्तीफा दे दिया। बाद में वह इस साल की शुरूआत में बालीगंज के उपचुनाव में निर्वाचित हुए।

उत्तर दिनाजपुर जिले के हेमताबाद विधानसभा क्षेत्र से सत्यजीत बर्मन और मेल्डा जिले के हरिश्चंद्रपुर विधानसभा क्षेत्र से ताजमुल हुसैन ने राज्य मंत्री के रूप में शपथ ली। हालांकि, अब सभी की निगाहें अपने प्रस्तावित कैबिनेट फेरबदल में विभागों के आवंटन के संबंध में मुख्यमंत्री की घोषणा पर टिकी हैं, जिसमें कुछ मौजूदा भारी मंत्रियों को उनके विभागों से मुक्त किया जा सकता है।

Previous Post Next Post