फिरोजाबाद में सेटिंगबाज शिक्षक नेता को बीएसए ने किया सस्पेंड

                   (शिक्षक नेता मुकेश कुमार यादव)
फिरोजाबाद ( मानवी मीडिया / जे पी सिंह) शिक्षक नेता का एक महिला शिक्षिका से उसके विद्यालय में किए निरीक्षण में मिली कमियों को रफादफा करने के नाम पर पैसे मांगने व सेटिंग कराकर कोई कार्यवाही न होने की बात की बातचीत का ऑडियो वायरल होने से शिक्षा विभाग में हड़कंप मच गया । मामले की जानकारी होते ही तेज तर्रार बेसिकशिक्षाधिकारी ने शिक्षक नेता को तत्काल सस्पेंड कर जांच कराने की कार्यवाही की है ।

बताते चले कि सेटिंगबाज शिक्षक नेता प्राथमिक शिक्षक संघ (पांडेय गुट) से खेरगढ का ब्लॉक अध्यक्ष मुकेश कुमार है जो कि वर्तमान में खेरगढ के भवानी धनश्याम विद्यालय में तैनात है,ने प्राथमिक विद्यालय नगला सातीं में तैनात पूजा बंसल से,विद्यालय में हुए निरीक्षण पर कोई कार्यवाही न होने की बात शिक्षिका पूजा बंसल से की थी उक्त बातें शिक्षिका ने रिकॉर्ड कर ली थी । शिक्षक नेता की ऑडियो उसने बेसिकशिक्षाधिकारी अंजली अग्रवाल को सुना दी जिस पर अंजलि अग्रवाल ने मुकेश कुमार को तत्काल सस्पेंड कर जांच करने के आदेश दिए है ।

सूत्रों की माने तो शिक्षक नेता मुकेश कुमार अपने छोटे साहब को खुश करने के लिए आये दिन सीधे साधे शिक्षकों से वसूली कार्यक्रम चलाता रहता है साथ ही बिना किसी सम्बद्धता के खंड शिक्षाधिकारी के कार्यालय पर ही जमा रहता है ।

बताते चले कुछ दिन पूर्व नारखी ब्लॉक के तत्कालीन संकुल विजय कुमार भी शिक्षिकाओं से मेटरनिटी लीव सेंशन के नाम से पैसे लेने का ऑडियो वायरल हुआ था । जिसमे तेज तर्रार बेसिकशिक्षाधिकारी अंजली अग्रवाल ने विजय कुमार को भी सस्पेंड कर दिया था । 

आपको बता दें कि छोटे साहब यानी खैरगढ़ ब्लॉक के खंड शिक्षा अधिकारी सुरेश सरोज को खुश करने व अधिकारियों पर चढ़ौती --चढ़ा कर व मक्खनबाजी व चापलूसी कर शिक्षक नेता अपने नंबर बढ़ाते रहते है और विद्यालय में नौनिहालों को पढ़ाने का कार्य नही करते हैं । 

हालांकि मामले को लेकर तेज तर्रार बेसिक शिक्षा अधिकारी अंजली अग्रवाल द्वारा शिक्षक नेता को संपेंड कर मामले की जांच शिकोहाबाद खंड शिक्षा अधिकारी रामशंकर कुरील को दी है । मामले में हुई कार्यवाही से शिक्षक नेताओं में हड़कंप मचा हुआ है ।

अब सबसे बड़ा सवाल यह है कि बेसिक शिक्षा विभाग में ये सेटिंग का खेल कब तक चलता रहेगा आखिर कब तक छोटे साहबों को खुश करने का खेल कब बंद होगा या लगातार जारी रहेगा

जांच पूरी होते ही विभागीय कार्यवाही के लिए शासन को भेजी जाएगी रिपोर्ट--जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अंजलि अग्रवाल

Previous Post Next Post