अवैध शराब निर्माण, बिक्री एवं तस्करी के खिलाफ, एन.सी.आर. सहित प्रदेश के सभी जिलों में ताबड़तोड़ छापे

 लखनऊ: (मानवी मीडिया)सेंथिल पांडियन सी, आबकारी आयुक्त, उत्तर प्रदेश द्वारा अवगत कराया गया है कि शासन के निर्देश पर अवैध शराब के निर्माण, बिक्री एवं तस्करी के विरूद्ध विभाग की कार्यवाही लगातार जारी है। इसी क्रम में एन.सी.आर. सहित प्रदेश के समस्त जिलों में अवैध शराब के संदिग्ध अड्डों पर कार्यवाही की जा रही है। दुकानों का आकस्मिक निरीक्षण लगातार किया जा रहा है। हाइवे पर स्थित ढ़ाबों और अवैध रूप से मदिरा पिलाने वाले संदिग्ध रेस्टोरेन्ट पर भी आबकारी विभाग पैनी नजर रख रहा है।  

अवैध शराब के निर्माण, बिक्री एवं तस्करी के विरूद्ध कार्यवाही करते हुए बीते एक दिन में 1,968 छापे मारे गये जिसमें 207 मुकदमे दर्ज किये गये तथा 7,273 ली. अवैध शराब बरामद की गयी। शराब बनाने हेतु तैयार किये गये 11,563 कि.ग्रा. लहन को मौके पर नष्ट करते हुए अवैध मदिरा के कार्य में संलिप्त 64 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया तथा 23 अभियुक्तों को जेल भेजा गया तथा 03 वाहन जब्त किया गया। अवैध शराब के विरूद्ध चलाये जा रहे इस मुहिम में प्रशासन, पुलिस, जी.एस.टी. तथा परिवहन विभाग का भरपूर सहयोग लिया जा रहा है।

छापेमारी तथा रोड चेकिंग के इसी क्रम में एन.सी.आर. के जिले-मेरठ, हापुड़, बुलन्दशहर में जहॉं अवैध शराब निर्माण के विरूद्ध कार्यवाही करते हुए बीते दिन 12 मुकदमें दर्ज करते हुए 227 ली0 शराब बरामद की गयी तथा 06 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया, वहीं गाजियाबाद व नोएडा में दिल्ली बार्डर से तस्करी कर लाने वाले वाहनों की चेकिंग में 04 अभियोग दर्ज करते हुए 379 ली0 अवैध शराब जब्त  करते हुए 07 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया तथा 03 वाहन जब्त किये गये।

हरियाणा बार्डर पर सहारनपुर में सहसॉंवा, शामली में कैराना, बिडौली तथा बागपत में 02 बार्डर पर आबकारी विभाग पूरी तरह मुस्तैद रहा तथा बार्डर से आने वाले सभी संदिग्ध वाहनों की चेकिंग की गयी। चेकिंग होने से शराब तस्करी छोटे-छोटे वाहनों से भी तस्करी के वैकल्पिक रास्तों से मदिरा लाने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन आबकारी विभाग उन रास्तों पर भी पूरी तरह से मुस्तैद है और कड़ी नजर रखे हुए है।

छापेमारी और चेकिंग की कार्यवाही में अवैध रूप से मदिरा पान कराने वाले रेस्टोरेन्ट एवं ढ़ाबों पर भी आबकारी विभाग लगातार सतर्क है। कानपुर नगर में फ्लाइंग सॉंसर तथा स्ट्राइकर रेस्टोरेन्ट पर फिर छापे डाले गये। इसी क्रम में कानपुर नगर में ही के.डी.पैलेस, एलेक्नि च्वाइस रेस्टोरेन्ट  पर आकस्मिक छापे मारे गये। इसके अतिरिक्त  गरीब नवाज होटल, सम्राट ढाबा, तिवारी ढ़ाबा, अपना ढ़ाबा, शिवा ढ़ाबा, बालाजी भोजनालय तथा बी.एस.आर.एस. होटल को भी देखा गया। अकेजनल बार लाइसेंस लेने वालों पर भी कड़ी नजर है ताकि वे लाइसेंस के निर्धारित समय के पहले अथवा बाद में मदिरा का सेवन न कराने पायें।

अभी सुल्तानपुर में एक विदेशी मदिरा की दुकान पर आकस्मिक निरीक्षण के गम्भीर अनियमितता पाये जाने पर लाइसेंस के विरूद्ध कार्यवाही प्रक्रिया में है। जनपद रायबरेली में भी एक विदेशी मदिरा दुकान के आकस्मिक निरीक्षण में विक्रेता को रंगे हाथों गम्भीर अनियमितता में पकड़ा गया, जिसमें लगभग 3 लाख 50 हजार रू0 की वैध एवं अवैध कुल 761 बोतल मदिरा बरामद की गयी। मौके पर विक्रेता के रूप में कार्यरत 02 अभियुक्तों को हिरासत में लिया गया तथा दुकान के अनुज्ञापी सहित कुल चार अभियुक्तों के विरुद्ध थाना जगतपुर में आबकारी एवं आईपीसी की सुसंगत धाराओं में कड़ी कार्यवाही कराई गई। दुकान के लाइसेंस के निरस्तीकरण की प्रक्रिया जारी है।  

 एटा में पुलिस व आबकारी की संयुक्त टीम द्वारा बड़ी कार्यवाही करते हुए एक अवैध शराब बनाने की फैक्ट्री का भाण्डाफोड़ किया गया। टीम द्वारा मदन लाल एंड संस बिल्डिंग मटेरियल के गोदाम से छापा मारकर 36 कैन स्पिरिट (प्रत्येक 40 लीटर) कुल 1440 लीटर, 3000 कैप, 4920 रैपर गुड इवनिंग ब्रांड, 1 लीटर कैरेमल बरामद करते हुए मौके से 02 अभियुक्तो को गिरफ्तार कुल 04 अभियुक्तों के विरूद्ध थाना अलीगंज में आबकारी एवं आई.पी.सी. की सुसंगत एवं कठोर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया।

इसी क्रम में यह भी बताया गया कि अवैध शराब के निर्माण बिक्री एवं तस्करी के विरुद्ध छापेमारी की कार्यवाही निरन्तर जारी रहेगी। दुकानों पर शराब की गुणवत्ता के साथ खिलवाड़ करने वाले अनुज्ञापियों एवं विक्रेताओं के विरूद्ध कठोर कार्यवाही आगे भी लगातार जारी रहेगी।

Previous Post Next Post