मरीजों तक दवाओं को समय से पहुंचाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए --- दुर्गा शंकर मिश्र,

लखनऊ: (मानवी मीडिया)उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव  दुर्गा शंकर मिश्र की अध्यक्षता में मंगलवार को शासी निकाय की 8वीं बैठक में उत्तर प्रदेश राज्य आयुष सोसाइटी की वार्षिक कार्ययोजना के लिए 846.66 करोड़ रुपये अनुमोदित किया गया। 

          इस दौरान मुख्य सचिव  दुर्गा शंकर मिश्र ने कहा कि नेशनल आयुष मिशन के अन्तर्गत बनने वाले 250 आयुष-हेल्थ एण्ड वेलनेस सेण्टर, 51 नई डिस्पेन्सरी, जौनपुर में 30 बेड का आयुष हॉस्पिटल, लखनऊ के आयुष हॉस्पिटल के अपग्रेडेशन, मोबिलिटी सपोर्ट जैसे कार्यों को तेजी से पूरा किया जाए। मरीजों तक दवाओं को समय से पहुंचाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि काशी में बनने वाले आयुर्वेदिक पंचकर्म केंद्र को आदियोगी भगवान शिव से जोड़ा जाय। इन प्रयासों से प्रदेश में धार्मिक, ऐतिहासिक टूरिज्म के साथ मेडिकल टूरिज्म को बढ़ावा मिलेगा। भारत के आयुर्वेद चिकित्सा शास्त्र का पूरी दुनिया लोहा मानती है। दवाओं के पेटेंट, प्रचार-प्रसार और व्यापक स्वीकारता के लिए वैज्ञानिकों व यूनिवर्सिटी के सहयोग से आयुर्वेद के रिसर्च को भी तेजी से आगे बढ़ाया जाए।  

          बैठक में नेशनल आयुष मिशन के तहत राज्य वार्षिक कार्ययोजना 2022-23 के अन्तर्गत फ्लैक्सी पूल मद में 43.74 करोड़ रुपये, आयुष सर्विसेज एण्ड एचडब्ल्यूसी मद में 439.08 करोड़ रुपये, आयुष एजुकेशनल इंस्टीट्यूशन मद में 10.35 करोड़ रुपये, एडमिन कास्ट (एसपीएमयू) मद में 7.69 करोड़ रुपये के साथ कुल 846.66 करोड़ रुपये की कार्ययोजना को अनुमोदन प्रदान कर सक्षम स्तर पर स्वीकृति प्राप्त करने की संस्तुति की गई।

  इससे पूर्व बैठक में उ0प्र0 राज्य आयुष सोसाइटी की शासी निकाय की 7वीं बैठक में अनुमोदित राज्य वार्षिक कार्ययोजना की वित्तीय एवं भौतिक प्रगति से अवगत कराया गया। वित्तीय वर्ष 2021-22 में अवमुक्त धनराशि का 100 प्रतिशत तथा वित्तीय वर्ष, 2015-21 में अवमुक्त धनराशि का 91 प्रतिशत व्यय की गई है। 

         बैठक में बताया गया कि आयुष मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा 250 नए योगा वेलनेस सेण्टर स्वीकृत किये गये हैं। 51 नई आयुष डिस्पेन्सरी,  पाँच 50 बेड के आयुष हॉस्पिटल, पूर्व स्वीकृत आयुष हॉस्पिटल के निर्माण संबन्धित बची राशियों के अनुमोदन, काशी में पंचकर्म सेंटर, जौनपुर में 30 बेड का आयुष हॉस्पिटल का निर्माण किया जाएगा। साथ ही लखनऊ के आयुष हॉस्पिटल के अपग्रेडेशन, इनफ्रास्ट्रक्चर कार्य, होमियोपैथिक मेडिकल कॉलेज व हॉस्पिटल, नए व अप्ग्रेडेड होमियोपैथिक वेलनेस सेण्टर व डिस्पेन्सरी आशा व एएनएम वर्कर्स का शिक्षण-प्रशिक्षण, स्वच्छता एक्शन प्लान, ई-लाइब्रेरी, टेलीमेडिसिन सेंटर, दवाओं के ट्रांसपोर्ट, मरीजों के खानपान, दवाओं, स्वास्थ्य के प्रति जनजागरूकता, सर्वेक्षण-शोध कार्य, मोबिलिटी सपोर्ट कार्य, मैनपावर वेतन आदि से जुड़े अनुमोदन शामिल है। 

        बैठक में अपर मुख्य सचिव आयुष  प्रशांत त्रिवेदी सहित वित्त एवं नियोजन एवं अन्य सम्बन्धित सभी विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

Previous Post Next Post