मोहर्रम को लेकर मंडलायुक्त ने मंडल के सभी जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक से किया संवाद


लखनऊ (मानवी मीडिया )लखनऊ मंडलायुक्त डॉ रोशन जैकब की अध्यक्षता में मोहर्रम की व्यवस्थाओं की तैयारी के सम्बन्ध में एक महत्वपूर्ण बैठक आयुक्त  सभागार में बैठक आहूत की गई। मण्डलायुक्त ने कहा कि चन्द्रदर्शन के अनुसार इस वर्ष मोहर्रम का माह 30 अथवा 31 जुलाई 2022 से प्रारम्भ होना है और 12वीं मोहर्रम तक विशेष रूप से संवेदनशील है जिनमें 1वीं, 7वीं, 8वीं, 9वीं व 10वीं मोहर्रम की तिथियां अति संवेदनशील है। मोहर्रम के माह में शिया समुदाय द्वारा मजलिस/मातम का आयोजन किया जाता है। 

      बैठक में मण्डलायुक्त ने निर्देश दिये कि मोहर्रम के अवसर पर निकाले जाने वाले जलूसों के लिए नगर निगम, लेसा, जल संस्थान, चिकित्सा, लोक निर्माण,जल निगम, एल0डी0ए0 सहित अन्य विभागों द्वारा की जाने वाली तैयारियाॅं जल्द से जल्द अवश्य पूरी कर ली जाये।पीस कमेटी की बैठक थाने, तहसील स्तर पर करे और साथ ही साथ परम्परागत तरीके से जुलूस निकलवाये तथा  प्रत्येक रास्ते की निगरानी शत प्रतिशत कराली जाए अगर रास्ते मे बिजली के तार ढीले हैं तो उन्हें तत्काल सही करें और रास्ते मे कही पेड़ के डाल लटके हो उन्हें काट दिया जाए तथा महिलाओं की सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया जाये।

       उन्होने अधिकारियों से कहा कि जलूसो के मार्गो का निरीक्षण कर यह सुनिश्चित कर लें कि उनके विभाग द्वारा मोहर्रम के जलूसों के दृष्टिगत जो भी तैयारी की जानी है उसे निर्धारित समय में पूरी कर ली जायें। 

      जिलाधिकारी ने कहा कि मुहर्रम में निकाले जाने वाले जलूसों एवं मजलिसों के अवसर पर शान्ति व्यवस्था अवश्य बनायी रखी जाये। उन्होने सभी सम्बधित अधिकारियों से कहा कि संवेदनशीलता एवं मुस्तैदी से ड्यूटी का निर्वाहन करे। 

     मंडलायुक्त ने कहा है कि मरम्मत आदि के कार्य भी निर्धारित समय में पूर्ण कियें जाये। उन्होने कहा कि सार्वजनिक स्थानों पर पोस्टर, बैनर, झण्डिया यदि कही लगायी/चस्पा की जाती है तो उन्हे प्राथमिकता के आधार पर हटवाया जाये। सडक के किनारे भवन निर्माण सम्बन्धी सामग्री कहीं पर एकत्र हो तो उसे भी हटवाये जाने की कार्यवाही की जाये। 

     मण्डलायुक्त ने कहा कि गत वर्षो की भांति समस्त व्यवस्थाए इस प्रकार सुनिश्चित की जाये की कहीं पर भी विभागीय व्यवस्थाओं के अभाव में शान्ति व्यवस्था पर कोई समस्या न उत्पन्न होने पाये। मोहर्रम की तारीखों में निकाले जाने वाले जलूसों के मार्गो पर समुचित सफाई, चूने का छिड़काव, पानी का छिड़काव, सुदृढ़, मार्ग प्रकाश व्यवस्था, पेचवर्क मरम्मत तथा टूटी सडकों की मरम्मत समयानुसार कराने छुट्टा जानवरों को पकडने के लिए गैंग की तैनाती, सफाई गैंग की तैनाती, एवं पानी के टैंकर की व्यवस्था के साथ दोनो ओर लगने वाली सबीलों के पानी के टैंकरों को समय से रिफलिंग कराये जाने हेतु नगर निगम/जल संस्थान को निर्देश दिये है। जलूसों के आगे प्रकाश व्यवस्था, फोकस लाइट लगे हुए वाहन का प्रबन्ध जो जुलूस के आगे-आगे रहते है को व्यवस्थित करने के निर्देश नगर निगम को दिये है। उन्होने पुराने शहर व सड़को के पेचवर्क, मलवा उठाने, टूटी नालियों को ठीक करवाने तथा सफाई कराने के निर्देश दिये।  

      जिलाधिकारी श्री सूर्यपाल गंगवार ने लेसा को पुराने लखनऊ के सम्पूर्ण क्षेत्र में बिजली के खम्भों से लटके/टूटे तारों को ठीक कराने की व्यवस्था करने के निर्देश दिये है। जिलाधिकारी ने चिकित्सा विभाग के सम्बधित अधिकारियो को निर्देश दिये है कि जलूसों के दौरान एम्बुलेंस तथा डाक्टरों की टीम की व्यवस्था समयानुसार की जायें तथा अस्पतालों को सर्तक रहने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने निरन्तर जल आपूर्ति के सम्बन्ध में कहा है कि जुलूस के मार्ग पर एवं मजलिसो के स्थानों पर भी टैंकरो की व्यवस्था समयानुसार करा ली जाये तथा, जलूसों के दौरान यातायात पुलिस अग्निशमन सेवा, नागरिक सुरक्षा, होमगार्ड आदि की भी तैयारियां पूरी करने के निर्देश दिये गये है। 

       जिलाधिकारी ने नागरिक सुरक्षा संगठन के अधिकारियों को निर्देश दिये है कि सभी थाना क्षेत्रों में शान्ति समितियों व विशेष पुलिस अधिकारियों की बैठक कर शान्ति व्यवस्था में उनका व्यापक सहयोग पूर्व वर्षो की भांति प्राप्त करें, इसके अतिरिक्त मोहर्रम की सभी महत्वपूर्ण तिथियों पर वार्डेन्स की तैनाती करके सूची ज़िलाधिकारी व पुलिस आयुक्त को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। 

इस अवसर पर  लक्ष्मी सिंह(आईजी)  डी० के० ठाकुर (पुलिस कमिश्नर लखनऊ)  रणविजय यादव (अपर आयुक्त प्रशासन) जल संस्थान, जल निगम, सिविल डिफ्रेन्स सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।


Previous Post Next Post