इस उद्योगपति ने दान की 600 करोड कि संपत्ति,अनाथ और बेसहारा लोगों के लिए


नई दिल्ली(मानवी मीडिया): उत्तर प्रदेश के एक उद्योगपति ने एक मिसाल पेश की है। मुरादाबाद के उद्योगपति डॉ. अरविंद कुमार गोयल ने अपनी पूरी संपत्ति गरीबों के लिए दान कर दी है। उनके पास कुल 600 करोड़ की संपत्ति है। लेकिन इनसब में गोयल ने अपने पास सिर्फ मुरादाबाद सिविल लाइंस स्थित कोठी रखी है। उन्होंने 50 साल कड़ी मेहनत कर ये प्रॉपर्टी बनाई थी।

इतना ही नहीं डॉ. गोयल समाजसेवा में भी लगे रहते हैं। उनकी मदद से ही पिछले 20 साल से देशभर में सैकड़ों वृद्धाश्रम, अनाथ आश्रम और फ्री हेल्थ सेंटर चल रहे हैं। उत्तर प्रदेश के अन्य हिस्सों और राजस्थान में भी उनके स्कूल-कॉलेज हैं जिसमे गरीब बच्चों को शिक्षा मुफ्त दी जाती है। लॉकडाउन में भी करीब 50 गांवों को गोद लेकर उन्होंने लोगों को मुफ्त खाना और दवा दिलवाई। गोयल ने दान सीधे राज्य सरकार को दिया है, ताकि वास्तविक जरूरतमंदों तक मदद पहुंचाई जा सके।

मुरादाबाद के सबसे बड़े उद्योगपति और समाजसेवी डॉ. अरविंद कुमार गोयल को सम्मानित करते राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद।

डॉ.गोयल के परिवार में उनकी पत्नी रेनू गोयल के अलावा उनके दो बेटे और एक बेटी है। उनके बड़े बेटे मधुर गोयल मुंबई में रहते हैं और छोटे बेटे शुभम प्रकाश गोयल मुरादाबाद में रहकर समाजसेवा और बिजनेस में पिता का हाथ बंटाते हैं। बेटी शादी के बाद बरेली में रहती है। उनके बच्चों और पत्नी ने इस फैसले का स्वागत किया है। डॉ. अरविंद गोयल ने कहा, ‘वे चाहते हैं उनकी सारी पूंजी गरीबों की सेवा में काम आए। जीवन का कोई भरोसा नहीं है। इसलिए जीवित रहते अपनी संपत्ति सही हाथों में सौंप दी। यह अनाथ, गरीब और बेसहारा लोगों के काम आ सकेगी।’

पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम भी डॉक्टर गोयल को उनकी समाजसेवा के लिए सम्मानित कर चुके हैं।

उनके भलाई कार्य के लिए उन्हें देश और दुनिया में कई मंचों पर सम्मानित किया जा चुका है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा देवी पाटिल और पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम समाजसेवा के लिए उनको सम्मानित कर चुके हैं। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी डॉ. गोयल के सेवा कार्यों के लिए उन्हें सम्मानित कर चुके हैं।​​​​​​ अब डॉ. गोयल की संपत्ति बेचकर मिलने वाले पैसों से अनाथ और बेसहारा लोगों के लिए फ्री शिक्षा और इलाज की व्यवस्था करेगी।

Previous Post Next Post