महान दल के अध्यक्ष केशव बोले- हमने कभी भी सपा से फॉर्च्यूनर नहीं मांगी


लखनऊ (मानवी मीडिया
समाजवादी पार्टी से गठबंधन तोड़ने के बाद महान दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष केशव देव मौर्य से सपा ने गाड़ी वापस ले ली है। केशव देव मौर्य का कहना है कि उन्होंने कभी समाजवादी पार्टी से कोई सुविधा नहीं मांगी थी। दीपावली के अवसर पर यह गाड़ी भेजी गई थी। गठबंधन खत्म करने के बाद उन्होंने खुद ही गाड़ी वापस कर दी है। हालांकि, सपा कार्यालय से उन्हें गाड़ी वापस करने का संदेश भी आया था। इस पर उन्होंने सपा कार्यालय को जवाब दिया कि गाड़ी भेजी जा चुकी है।


मालूम हो कि यूपी विधानसभा चुनाव के दौरान समाजवादी पार्टी से महान दल का गठबंधन था। इस दौरान सपा के चुनाव चिह्न पर महान दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष केशव देव मौर्य की पत्नी सुमन ने फर्रुखाबाद और बेटा चंद्रप्रकाश ने बिल्सी विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ा लेकिन दोनों जगह पराजय मिली।
विधान परिषद और राज्यसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी ने केशव देव मौर्य से किसी तरह का परामर्श भी नहीं लिया। ऐसे में केशव देव मौर्य ने गठबंधन तोड़ने का ऐलान कर दिया। गठबंधन खत्म करने के बाद समाजवादी पार्टी ने उन्हें गिफ्ट में दी गई फॉर्च्यूनर कार वापस करने के लिए कहा। केशव देव मौर्य का जवाब है कि उन्होंने गठबंधन तोड़ने के दिन ही गाड़ी भिजवा दी है।

केशव देव ने बताया कि उन्होंने समाजवादी पार्टी से कुछ भी नहीं मांगा था। सपा प्रदेश कार्यालय स्थित हाल में उन्होंने कार्यकर्ता सम्मेलन किया था जिसमें मुख्य अतिथि के रुप में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव मौजूद थे। कार्यकर्ताओं की मौजूदगी में उन्होंने बिना शर्त सपा को समर्थन दिया था लेकिन सपा अध्यक्ष ने इसे उनकी मजबूरी समझा। यही वजह है कि हर कदम पर उनकी उपेक्षा की गई।

केशव देव ने कहा कि महान दल के लाखों कार्यकर्ता उन्हें हर स्तर पर सुविधा उपलब्ध कराने की अपील करते रहते हैं लेकिन कार्यकर्ताओं से चंदे में मिले पैसे से उन्होंने कभी सुख सुविधा नहीं ली है। पार्टी का अपना संविधान है और खर्च का तरीका भी है। जहां तक सवाल सपा अध्यक्ष की ओर से गाड़ी भिजवाने का है तो यह सही है कि दीपावली पर गाड़ी भेजी गई। यह फैसला सपा की ओर से था हमने कभी डिमांड नहीं की थी।
Previous Post Next Post