बीजेपी की चुनाव आयोग से शिकायत के बाद हरियाणा में रुकी वोटों की गिनती


हरियाणा (
मानवी मीडिया राज्यसभा चुनाव के लिए वोटों की गिनती को रोक दी गई है। चुनाव को लेकर बीजेपी का एक प्रतिनिधिमंडल दिल्ली में निर्वाचन आयोग पहुंचकर मतदान में गोपनियता के नियमों को तोड़ने के आधार पर हरियाणा राज्यसभा चुनाव को अमान्य घोषित करने की मांग की थी। बीजेपी प्रतिनिधिमंडल की मुलाकात के बाद हरियाणा में वोटों की गिनती रोक दी गई है।

बीजेपी के प्रतिनिधिमंडल में शामिल केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि महाराष्ट्र और हरियाणा में राज्य सभा चुनावों के संबंध में भाजपा के एक प्रतिनिधिमंडल ने आज ECI के साथ मुलाकात की। हमारी पार्टी ने विशिष्ट राज्यों में भी शिकायतें दर्ज़ कराई हैं। उन्होंने कहा कि हमने मांग की है कि मतदान में गोपनीयता के टूटे नियमों के आधार पर इस चुनाव को अमान्य घोषित किया जाए

हरियाणा में राज्यसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी ने पूर्व मंत्री कृष्ण लाल पंवार को खड़ा किया है जबकि पूर्व केंद्रीय मंत्री अजय माकन कांग्रेस के प्रत्याशी हैं। मीडिया कारोबारी कार्तिकेय शर्मा निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनावी मैदान में हैं।

कांग्रेस के राज्य विधानसभा में 31 सदस्य हैं, जो एक सीट के लिए उसके उम्मीदवार को जिताने के लिए पर्याप्त हैं, लेकिन 'क्रॉस-वोटिंग' होने पर उसकी संभावनाएं कम हो सकती हैं। हरियाणा में 90 सदस्यीय विधानसभा में 40 विधायकों के साथ भारतीय जनता पार्टी के पास जीत के लिए आवश्यक 31 प्रथम वरीयता मतों से नौ अधिक मत हैं।

Previous Post Next Post