ज्ञानवापी प्रकरण से व्यापार पर पड़ रहा असर


वाराणसी (मानवी मीडिया)  ज्ञानवापी प्रकरण के चलते शहर में कारोबार की गाड़ी बेपटरी हो रही है। दुकानें उस तरह नहीं चल पा रही हैं, जैसे एक माह पूर्व चल रही थी। पर्यटकों के आने का क्रम भी थम गया है। यह बातें महानगर उद्योग व्यापार समिति के पदाधिकारियों ने शनिवार को कहीं। 


हथुआ मार्केट में बैठक के दौरान पदाधिकारियों ने हिंदू और मुस्लिम व्यापारियों से आह्वान किया कि शहर में अमन चैन बनाए रखें। किसी भी बहकावे और उकसावे में न आएं। समिति के सरंक्षक श्रीनारायण खेमका, अध्यक्ष प्रेम मिश्रा और महामंत्री अशोक जायसवाल ने कहा कि जब से ज्ञानवापी प्रकरण चल रहा है तभी से व्यापार पर काफी असर पड़ चुका है।

वरिष्ठ उपाध्यक्ष अनुज डिडवानिया, सोमनाथ विश्वकर्मा, उपाध्यक्ष अजय गुप्ता ने कहा कि यह कोर्ट का मामला है, कोर्ट का जो भी आदेश होगा, वह हम सभी के लिए सर्वमान्य होगा। आपस में ऐसा कोई काम ना करें, जिससे कि शहर पर किसी प्रकार की आंच आए। व्यापारियों ने अपील किया कि  काशी की गंगा जमुनी तहजीब की जो परंपरा रही है, वह कायम रहे।

व्यापारी मुख्तार अहमद और ओवैदुल हक ने कहा कि किसी के बहकावे में कोई न आएं। शांति व्यवस्था व अमन चैन बनाए रखें। बैठक में रजनीश कन्नौजिया, मनीष चौबे, दिनेश कालरा, विजय जायसवाल, केदार धन्ननी, संजय अग्रवाल, फैजान अहमद आदि रहे। 
Previous Post Next Post