फ्री राशन : आधा जून बीता, आखिर क्यों


लखनऊ (मानवी मीडिया
मुफ्त राशन वितरण का चक्र पूरी तरह बिगड़ गया है। आज जून माह की 14 तारीख है और अभी मई माह के दूसरे चरण का राशन वितरण चल रहा है। जून माह के प्रथम चरण का राशन वितरण कब शुरू होगा, जिला पूर्ति कार्यालय में भी किसी को पता नहीं है। हद तो यह है कि प्रथम चरण में पांच किलो मुफ्त चावल के साथ मिलने वाले एक-एक किलो नमक, चना, रिफाइंड का अभी अता-पता नहीं है।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत सितंबर माह तक राशनकार्डधारकों को मुफ्त राशन मिलना है। इसी के साथ उप्र सरकार ने भी जून तक मुफ्त राशन देने की घोषणा कर रखी है। इस वजह से कार्डधारकों को एक महीने में दो बार मुफ्त राशन मिल रहा है। केन्द्र व राज्य सरकार की दरियादिली पूर्ति विभाग के साथ-साथ कार्डधारकों पर भी भारी पड़ने लगी है। जून का आधा महीना बीत चुका है, परंतु अभी मई माह के दूसरे चरण का राशन वितरण पूरा नहीं हो पाया है।

रिफाइंड, नमक, चना कब आएगा
प्रथम चरण में प्रति यूनिट पांच किलो चावल दिए जाने हैं। इसके साथ ही प्रत्येक कार्ड पर एक-एक किलो रिफाइंड, नमक, चना भी मिलना है। पूर्ति विभाग के सूत्रों का कहना है कि चावल का कोटा तो जनपद को प्राप्त हो गया है, परंतु नेफेड द्वारा दिए जाने वाले रिफाइंड, नमक, चना का अभी तक कोई अता-पता नहीं है। बिना इन तीनों वस्तुओं के वितरण संभव नहीं होगा। कार्डधारक दुकानों पर इनके न मिलने पर हंगामा कर सकते हैं।


Previous Post Next Post