सीएम योगी गंभीर, पत्थरबाजों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश


प्रयागराज (मानवी मीडिया
तीन जून को कानपुर में फैली हिंसा की आंच दूसरे जुमे के दिन प्रयागराज तक पहुंच गई। प्रयागराज समेत यूपी के कई जिलों में जुमे की नमाज के बाद उपद्रवियों ने पहले जमकर हंगामा किया इसके बाद पथराव शुरू कर दिया। पत्थरबाजों ने कई गाड़ियों को भी निशाना बनाया और आग के हवाले कर दिया। दंगाइयों ने पीएसी की एक गाड़ी को भी आग के हवाले किया है। प्रयागराज में हालात बेकाबू होते देख सीएम योगी एक्शन में आए।

सीएम योगी ने अफसरों को पत्थरबाजों से निपटने के निर्देश दिए हैं। सीएम योगी ने पुलिस और प्रशासनिक अफसरों को प्रदेश के शहरों में हुई पथराव की घटनाओं को देखते हुए गुंडों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का निर्देश दिया है। सीएम योगी ने अफसरों को निर्देश देते हुए कहा सुरक्षा के साथ कोई खिलवाड़ न हो। उन्होंने कहा कि शांतिभंग करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। साथ ही अफसरों को सभी स्थानों पर मॉनीटरिंग करने के भी निर्देश दिए। सीएम योगी ने कहा, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी, कार्यवाहक डीजीपी, एडीजी लॉ एंड ऑर्डर जैसे अधिकारी पुलिस मुख्यालय से स्थित पर नजर रखे हुए हैं।

बेवजह सड़कों पर न घूमें युवा : अवनीश अवस्थी

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया, जो भी अनावश्यक रूप से शांति और व्यवस्था की स्थिति को बाधित करने का प्रयास करेगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। मैं उत्तर प्रदेश के लोगों से सद्भाव बनाए रखने की अपील करता हूं। उन्होंने कहा, प्रयागराज में कुछ लोगों ने अव्यवस्था पैदा करने की कोशिश की है। पुलिस प्रशासन ने बड़ी सावधानी से हल्का बल प्रयोग कर उन्हें लगभग पूरी तरह से तितर-बितर कर दिया। हम युवाओं से अपील करना चाहते हैं कि वे बेवजह सड़कों पर न निकलें। उन्होंने कहा, सेक्टर योजनाओं के तहत, पुलिस, प्रशासन, मजिस्ट्रेट और सीओ ने गश्त के लिए पर्याप्त मात्रा में पुलिस बल तैनात किया। नमाज के तुरंत बाद सहारनपुर, मुरादाबाद, फिरोजाबाद और अन्य जगहों पर लोग जमा हो गए। 

बतादें कि जुमे की नमाज के बाद प्रयागराज में हुए बवाल ने शहर का माहौल खराब कर दिया है। पत्थरबाजी और आगजनी की घटनाओं के बाद शहर में पुलिस फोर्स तैनात कर दी गईहै। पत्थरबाजों से निपटने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज भी किया है। इसके बाद भी पत्थरबाज पथराव करते रहे। पत्थरबाजों पर काबू पाने में पुलिस और रैपिड एक्शन फोर्स के पसीने छूट गए। पत्थरबाजी की यह घटना प्रयागराज के अटाला क्षेत्र में सबसे ज्यादा हिंसक हुई है। हालांकि पुलिस फोर्स लगातार हालात पर काबू पाने का प्रयास कर रही है। पुलिस ने कई प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया है। प्रदर्शन वाली जगहों पर भारी मात्रा में पुलिस फोर्स भी तैनात किया गया है। 

Previous Post Next Post