मां की हत्या कर बहन को कमरे में किया बंद, दोस्त को बुलाकर घर पर की पार्टी


लखनऊ (
मानवी मीडिया)  यमुनापुरम कालोनी में अपनी मां की गोली मारकर हत्या करने के आरोपी नाबालिग को बाल सुधार गृह भेजा गया है। वहीं, पुलिस की पूछताछ में आरोपी बेटे ने कई राज खोले हैं। सबस हैरान बात तो ये है कि उसको मां की हत्या करने का कोई अफसोस नहीं है।

इंस्पेक्टर ने आरोपी बेटे से पूछा कि दो दिन शव रखा रहा, तुम्हे डर नहीं लगा। इस पर उसने जवाब दिया कि सोमवार की रात डर लगा था तो मोहल्ले में रहने वाले दोस्त को बुला लिया था। हत्यारे बेटे ने बताया कि सुबह 8 बजे बहन को कमरे में बंद करके मां की स्कूटी लेकर मैच खेलने गया। दोपहर 3 बजे खेलकर घर लौटा। शाम 5 बजे उसने एक दोस्त को फोन करके बुलाया। फिर बहन को दूसरे कमरे में बंद करके दोस्त के साथ पार्टी की रात भर दोनों ने मूवी देखी। दोस्त ने मां के बारे में पूछा तो बताया कि दादी के पास गईं हैं।

पिता से बोला बेटा- आप मेरी सुनते कब थे
पिता को रोता देखकर आरोपी बेटा कुछ विचलित हुआ लेकिन तुरंत नॉर्मल हो गया। उससे पिता एनके सिंह ने कहा कि यह क्या कर दिया। अगर में डांटता तो तुम हमें भी मार देते। इस पर बेटा बिना किसी शिकन के बोला कि यह तो वक्त बताता। यह भी कहा कि आप तो मेरी कभी कुछ सुनते ही नहीं थे। मां शिकायत कर दे, बस डांटना शुरू कर देते थे।

छत के रास्ते घर में घुसकर किसी ने मां की हत्या कर दी
बीते 7 जून को लाश छिपाना मुश्किल हो गया था। पिता नवीन का सुबह से फोन और वॉट्सऐप मैसेज आ रहा था। दोपहर में उसने कॉल पिक किया। शाम तक घर के अंदर बेतहाशा बदबू फैल गई। उसे लगा कि घटना को छिपाना अब मुश्किल है। इस पर शाम करीब 7 बजे खुद पिता नवीन को फोन किया। बोला- पापा छत के रास्ते घर में घुसकर किसी ने मां की हत्या कर दी।

Previous Post Next Post