एलआईसी शेयर सूचीबद्धता: सचिव ने कहा, बाजार की भविष्यवाणी नहीं की जा सकती

मुंबई (मानवी मीडिया): शेयर बाजार में तेजी के बावजूद मंगलवार को सूचीबद्धता के दिन भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) का शेयर गिरकर बंद होने पर निवेश और लोक संपत्ति प्रबंधन विभाग (दीपम) के सचिव तुहिन कांत पांडे ने कहा कि बाजार के बारे में भविष्यवाणी नहीं की जा सकती है।

एलआईसी का बाजार में शेयर आज करीब आठ प्रतिशत गिरावट के साथ सूचीबद्ध हुआ।

बीएसई में एलआईसी का शेयर 867.20 रूपये और एनएसई में 872 रुपये पर खुला। इसका निर्गम मूल्य 949 रुपये था।

 पांडे ने कहा,“बाजार के बारे में कोई भी व्यक्ति भविष्यवाणी नहीं कर सकता। हम कहते आ रहे है कि इसे (इस शेयर को) किसी एक खास दिन के लिए नहीं बल्कि एक दिन से अधिक समय के लिए लिया जाना चाहिए। हमें एलआईसी को मौका देना चाहिए और इस शेयर को उसी दिन बेचकर खाली नहीं करना चाहिए। ”

एलआईसी के आईपीओ में प्रस्तुत किए गए शेयरों की तुलना में 2.95 प्रतिशत आवेदन प्राप्त हुए थे। इस निर्गम में कुल 47.83 करोड़ शेयरों के लिए आवेदन मिले थे जबकि बिक्री के लिए 16.2 करोड़ प्रस्तुत किए गए थे। यह निर्गम आम निवेशकों के लिए चार मई को खुला था और इसमें बोली लगाने के लिए नौ मई आखिरी दिन था।

एलआईसी ने कंपनी के पॉलिसीधारकों और रिटेल निवेशकों को 889 रुपये और 904 रुपये प्रति शेयर के भाव पर शेयर आवंटित किए थे।

 पांडे ने कहा कि इसमें खुदरा निवेशकों और पॉलिसीधारक वर्ग के निवेशकों के लिए कुछ सुरक्षा है। उन्हें यह शेयर कुछ रियायत पर मिला है।

इससे पहले उन्होंने कहा था कि बाजार के वातावरण को देखते हुए इस आईपीओ के आकार को सही रूप दिया गया है।

उन्होंने कहा, “बाजार के वातावरण को देखते हुए एलआईसी के आईपीओ के आकार को एक उचित आकार पर रखा

गया। इसका उद्देश्य था कि वर्तमान वातावरण में पूंजी और कर्ज की आपूर्ति प्रभावित न हो। हमने अपने प्रधानमंत्री की प्रतिबद्धताओं के अनुसार एलआईसी को बाजार में सूचीबद्ध कराया है। ”

उन्होंने कहा कि एलआईसी के आईपीओ को खुदरा निवेशकों और पॉलिसीधारकों का जबरदस्त समर्थन मिला। नवंबर 2021 के बाद से 50 लाख नए डीमैट खाते खोले गए हैं।

एलआईसी के चेयरमैन एम आर कुमार ने कहा, “हमें पहले भी किसी बड़े उछाल की उम्मीद नहीं थी। इसका बाजार आगे चढ़ेगा और मुझे भरोसा है कि बहुत से लोग, खासकर वे पॉलिसीधारक जिनको आवंटन नहीं हो सका, वे इस शेयर को बाजार से उठाएंगे। मुझे ऐसा कोई कारण नहीं दिखता कि यह लंबे समय तक नीचे रहे। ”

एलआईसी का शेयर बीएसई में 7.75 प्रतिशत गिरकर 875.45 रुपये पर बंद हुआ जबकि एनएसई में यह 8.01 प्रतिशत गिरकर 873 रुपये पर बंद हुआ।

Previous Post Next Post