केजीएमयू में सीनियर की जगह जूनियर छात्र दे रहे थे परीक्षा


लखनऊ (मानवी मीडिया
केजीएमयू में एमबीबीएस की आंतरिक परीक्षा में बड़े फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ है। जूनियर छात्र सीनियर की जगह परीक्षा दे रहे थे। केजीएमयू प्रशासन ने शुरुआती जांच के बाद 42 एमबीबीएस छात्र-छात्राओं को आठ सप्ताह के लिए निलंबित कर दिया गया है। विस्तृत जांच के आदेश दिए गए हैं। आरोपित छात्रों के अभिभावकों को सूचना दी गई है।

केजीएमयू में एमबीबीएस छात्र पढ़ाई के दौरान विभिन्न विभागों में काम करते हैं। विभाग असेसमेंट टेस्ट लेते हैं। इसमें छात्रों ने कितना सीखा, इसे परखा जाता है। सभी छात्रों को टेस्ट देना जरूरी होता है। एमबीबीएस मेडिसिन एसेसमेंट टेस्ट के दौरान 21 छात्रों को अपने सीनियर की परीक्षा देते हुए पकड़ा गया। एकेडमिक्स डीन डॉ. उमा सिंह ने परीक्षा देने वाले वाले 21 छात्रों को निलंबित कर दिया है। जिन 21 छात्रों के लिए यह फर्जीवाड़ा किया गया था उन्हें भी निलंबित कर दिया गया है।

Previous Post Next Post