सुरेश कुमार खन्ना नें लखनऊ में विभिन्न क्षेत्रों में साफ-सफाई के सम्बन्ध में किया औचक निरीक्षण

लखनऊ: (मानवी मीडिया)उत्तर प्रदेश वित्त एवं संसदीय कार्य मंत्री एवं लखनऊ मण्डल में प्रभारी मंत्री  सुरेश कुमार खन्ना नें आज जनपद लखनऊ में विभिन्न क्षेत्रों में साफ-सफाई के सम्बन्ध में औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान अल्पसंख्यक कल्याण, मुस्लिम वक्फ एवं हज राज्यमंत्री श्री दानिश आजाद अंसारी एवं लखनऊ की महापौर श्रीमती संयुक्ता भाटिया भी उपस्थित रही। 

प्रभारी मंत्री सर्वप्रथम चौक स्थित फूलमण्डी पहुंचे वहां कूड़े के मिले ढेर पर अप्रसन्नता व्यक्त की। उन्होने नगर आयुक्त को साफ-सफाई कराने के निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि शहर में कही भी कूड़े का ढेर इकट्ठा न हो। इसकी नियमित सफाई करायी जाय और इसकी मॉनीटरिंग भी कराई जाये। जिम्मेदार अधिकारी सतत निरीक्षण करें और शहर की स्वच्छता सुनिश्चित करायें। चौपटिया सरकता नाला के निरीक्षण में उन्होने पाया कि नाला कूड़े से भरा एवं जाम है। उन्होंने नाराजगी जाहिर करते हुए निर्देश दिया कि इसकी तत्काल सफाई करायी जाय। 

बिजली कम्पनी रोड के सौन्दर्यीकरण के दौरान विद्युत तारों को अण्डर ग्राउण्ड करने के लिए सड़क की खुदाई करने के उपरान्त उसका मरम्मतीकरण कार्य नहीं किया गया जिससे सड़क टूटी हुयी मिली। इस पर उन्होने निर्देश दिया कि इसके मरम्मत का कार्य यथाशीघ्र पूर्ण कराया जाये। 

इसके उपरान्त प्रभारी मंत्री आशियाना के लोकबन्धु चिकित्सालय के पास स्थित इज्जतघर का निरीक्षण किया। शौचालय में गंदगी पाये जाने पर सम्बन्धित को फटकार लगाई। आसपास की कालोनियों में निरीक्षण के दौरान पाया कि लोगो द्वारा मकान बनाते समय नालियों को बन्द कर देते है और घर के रैम्प, सड़को तक बना देते है। जिस पर उन्होने निर्देश दिया कि घरो के पास नालियों के अवरोध को हटवाया जाय। इसके उपरान्त वे सरोजनी नगर वार्ड नं0-02 के बदाली खेड़ा स्थित सत्यलोक कालोनी पहुँचे। वहां नाली भराव की समस्या पर नाराज होते हुए निर्देश दिया कि पानी निकासी व्यवस्था में दुरुस्त किया जाय जिससे जलभराव की समस्या न हो। 

प्रभारी मंत्री ने कल्ली पश्चिम में हर घर नल योजना का स्थलीय निरीक्षण किया। लोगो के घर में लगे नल को देखा। उन्होने पाया कि सभी घरों पर नल व्यवस्थित ढंग से नही लगे है। लाभार्थियों द्वारा बताया गया कि नलों से पानी नियमित रूप से नहीं आता। पानी आता भी है तो फ्लों कम रहता है। हर घर नल योजना में कमी पाये जाने पर अधिशासी अभियन्ता जल निगम एस. रमन का वेतन रोकने एवं अनुशासनात्मक कार्रवाई करने हेतु जिलाधिकारी लखनऊ को निर्देश दिये। 

इसके उपरान्त मंत्री  ने पशु आश्रय स्थल परवर पश्चिम का निरीक्षण किया। यहां पर 324 गौवंश रखे गये है। उन्होने जानवरों के लिए चिकित्सा व्यवस्था की भी जानकारी ली। उन्होंने निर्देश दिया कि आश्रय स्थल पर ट्रीगार्ड सहित वृक्षारोपण कराया जाय एवं खाली जगह पर घास लगवाई जाय। इसके उपरान्त उन्होने परवर पूर्व में बने पंचायत भवन/ग्राम सचिवालय का भी निरीक्षण किया। अन्त में प्रभारी मंत्री कान्हा उपवन पहुँचे। वहां उन्होंने गौवंश को गुड़ खिलवाया तथा वहां के गौवंश के लिए व्यवस्थाओं के सम्बन्ध में जानकारी ली।

 निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी  अभिषेक प्रकाश, मुख्य विकास अधिकारी,  अश्विनी कुमार नगर आयुक्त सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे। 

Previous Post Next Post