अनाधिकृत बसों व ओवरलोड वाहनों के संचालन से होता है राजस्व का नुकसान

लखनऊ: (मानवी मीडिया)उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के निर्देशों का अनुपालन करते हुए परिवहन विभाग अनधिकृत बस संचालन एवं ओवरलोड वाहनों के खिलाफ 01 मई से 15 मई तक लखनऊ परिक्षेत्र में कुल 6842 वाहनों का चालान किया गया तथा 906 वाहनों को बंद किया गया और इससे कुल 365.11 लाख रूपये प्रशमन शुल्क वसूल किया गया। 

परिवहन उपायुक्त  निर्मल प्रसाद ने बताया कि अनधिकृत बस संचालन एवं ओवरलोड वाहनों के खिलाफ 15 मई तक की गई कार्रवाई में 1055 बसों का, 1311 ट्रकों का तथा 4476 अन्य वाहनों का चालान किया गया। इसी प्रकार 207 बसों, 307 ट्रकों व 392 अन्य वाहनों को इस दौरान बन्द करने की कार्यवाही की गयी।

परिवहन उपायुक्त ने बताया कि यह चेकिंग अभियान आगे भी जारी रहेगा। मुख्यमंत्री  एवं परिवहन मंत्री की मंशानरूप अनधिकृत बसों एवं ओवरलोड वाहनों के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने कहा कि ऐसे वाहनों के संचालन से एक ओर जहां प्रदेश के राजस्व को क्षति पहुचती है वहीं दूसरी ओर दुर्घटनाओं के साथ-साथ जाम की स्थिति बनती है तथा ओवरलोड वाहनों के कारण सड़कों को भी नुकसान होता है

Previous Post Next Post