चालक यात्रा के दौरान मोबाइल फोन एवं मादक पदार्थों का सेवन न करे


लखनऊ:( मानवी मीडिया) उत्तर प्रदेश सरकार यात्रियों को सुरक्षित, व्यवस्थित, सुगम एवं समयबद्ध परिवहन सेवा उपलब्ध कराने के लिए संकल्पित है। मुख्यमंत्री की मंशा है कि परिवहन व्यवस्था लोगो की जरूरतों के अनुसार सुचारू रूप से संचालित हो इसके लिए सभी अधिकारी एवं कर्मचारी अपने दायित्वों का निर्वहन अपनी जिम्मेदारी के साथ करे। इसके दृष्टिगत प्रबन्ध निदेशक  आर0पी0 सिंह ने समस्त क्षेत्रीय प्रबन्धको/सेवा प्रबन्धकों/सहायक क्षेत्रीय प्रबन्धकों को निर्देशित किया है कि सभी चालक/परिचालकों की काउन्सलिंग कर उन्हें व्यवस्थित एवं सुगम बस संचालन के बारे में अवगत कराया जाये।

आर0पी0 सिंह ने निर्देशित किया है कि बस संचालन की व्यवस्था के अनुसार इस बात का ध्यान रखा जाये कि बस संचालन निर्धारित गति सीमा के अन्तर्गत की जाये एवं एस.एल.डी. (स्पीड लिमिट डिवाइस) सही से कार्य कर रहे हो। उन्होंने कहा कि संचालन के दौरान कोई भी बस चालक/परिचालक मादक पदार्थों का सेवन न करे एवं वर्दी में रहे। एक्सप्रेस-वे, राजमार्गों में बस संचालन के दौरान गलत साइड में न चले एवं गलत साइड से ओवर टेकिंग करने का प्रयास न करे, साथ ही यात्रियों को उतारने के लिए बसों को सड़क के किनारे लगाकर ही खड़ा करे।

 आर0पी0 सिंह ने कहा कि बस संचालन के समय चालक द्वारा किसी भी परिस्थिति में मोबाइल का प्रयोग नहीं किया जाना चाहिए एवं दुर्घटना बाहुल्य क्षेत्रों एवं अन्ध मोड़ स्थनों पर गति का विशेष सावधानी बरती जाये। उन्होंने कहा कि समस्त निगम कर्मी यात्रियों से नम्रतापूर्ण एवं सौहार्दपूर्ण व्यवहार करे। अधिकृत फूड प्लाजा एवं ढाबों पर ही बस रोके। जिससे कि किसी भी यात्री को खाने-पीने की समस्या न हो।

 सिंह ने कहा कि बसों की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दे और यात्रियों से भी इसके लिए अपील करे।

Previous Post Next Post