सरकार को झटका, 7 साल में पहली बार बढ़ी प्रीमियम की रकम


नई दिल्ली (मानवी मीडिया
प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (पीएमजेजेबीवाई) और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (पीएमएसबीवाई) का प्रीमियम बढ़ा दिया। सरकार ने यह फैसला सात साल में पहली बार लिया है।

कितनी हो गई बढ़ोतरी: पीएमजेजेबीवाई की प्रीमियम दर को बढ़ाकर 1.25 रुपये प्रतिदिन कर दिया गया है। इस तरह यह सालाना 330 रुपये से बढ़कर 436 रुपये हो गई है। वहीं, पीएमएसबीवाई के लिए वार्षिक प्रीमियम 12 रुपये से बढ़ाकर 20 रुपये कर दी गई है। नयी प्रीमियम दरें एक जून 2022 से प्रभावी हैं। इस तरह पीएमजेजेबीवाई की प्रीमियम 32 प्रतिशत और पीएमएसबीवाई की प्रीमियम 67 प्रतिशत बढ़ी है। इस योजना के तहत किए गए दावों के आधार पर यह फैसला लिया गया।

बीते वित्त वर्ष के अंत यानी 31 मार्च 2022 तक पीएमजेजेबीवाई और पीएमएसबीवाई के तहत सक्रिय ग्राहकों की संख्या क्रमशः 6.4 करोड़ और 22 करोड़ थी।

आपको बता दें कि पीएमएसबीवाई की शुरुआत से 31 मार्च 2022 तक प्रीमियम के तौर पर 1,134 करोड़ रुपये की राशि एकत्र की गई और 2,513 करोड़ रुपये के दावों का भुगतान किया गया है। इसके अलावा पीएमजेजेबीवाई के तहत प्रीमियम के रूप में 9,737 करोड़ रुपये की राशि जमा की गई और 14,144 करोड़ रुपये के दावों का भुगतान किया गया।

सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया कि भारत को पूरी तरह से बीमाकृत समाज बनाने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोच के मद्देनजर अगले पांच वर्षों में पीएमजेजेबीवाई के तहत दायरे को 6.4 करोड़ से बढ़ाकर 15 करोड़ और पीएमएसबीवाई के तहत कवरेज को 22 करोड़ से बढ़ाकर 37 करोड़ करने का लक्ष्य रखा गया है।

4 लाख तक की बीमा कवर: पीएमजेजेबीवाई बैंक या डाकघर में खाता रखने वाले 18-50 वर्ष आयु वर्ग के लोगों को किसी भी कारण से मृत्यु होने पर दो लाख रुपये का जीवन बीमा कवर देती है। दूसरी ओर पीएमएसबीवाई 18-70 वर्ष आयु वर्ग के लोगों को दुर्घटना में मृत्यु या पूर्ण स्थाई विकलांगता के लिए दो लाख रुपये और आंशिक स्थाई विकलांगता के लिए एक लाख रुपये का बीमा कवर देती है।


Previous Post Next Post