12 बड़े निवेश परियोजनाओं के जरिए 1.2 लाख को रोजगार


लखनऊ  (मानवी मीडिया12 महीने में 12 बड़ी निवेश परियोजनाएं 1.2 लाख लोगों के लिए रोजगार का इंतजाम करेंगी। इन परियोजनाओं की अगले महीने 3 जून को लखनऊ में होने जा रही तीसरी ग्राउंड ब्रेकिंग सेरमनी में आधाशिला रखी जाएगी। साल भर में इनके पूरा होने की उम्मीद है। इसकी वजह है कि इस बार जमीन का इंतजाम कर सकने वाले प्रोजेक्टस का ही शिलान्यास कराया जाएगा। 

 
औद्योगिक विकास विभाग की कोशिश 75 हजार करोड़ की 1500 परियोजनाओं के शिलान्यास कराने की है लेकिन ग्राउंड ब्रेकिंग सेरमनी में उन्हीं परियोजनाओं को शामिल किया जाएगा जिनमें जमीन मिलने के साथ ही अन्य एनओसी व औपचारिकताएं शासन की ओर से पूरी हो गई हैं। इसका मकसद है कि इन परियोजनाओं को जल्द पूरा करा उद्घाटन कराया जा सके। साल भर में कम से कम दर्जन से ज्यादा परियोजनाओं के जरिए एक लाख बीस हजार से ज्यादा को रोजगार मिलेगा। 

यूपीसीडा ने 462 करोड़ रुपये के निवेश से आठ वेयरहाउस परियोजनाओं के लिए जमीन उपलब्ध करवा दी  है। इनमें पांच लखनऊ में व एक उन्नाव में है। कानपुर, आगरा व गोरखपुर में फ्लैटेड फैक्ट्री काम्प्लेक्स के लिए 200 करोड़ खर्च किए जा रहे हैं। इनका शिलान्यास कराया जाएगा। कपड़ा उद्योग में अपनी पैठ बना रहे यूपी में अब सिलेसिलाए वस्त्रों, होजरी की छह और नई फैक्ट्रियां खुलने जा रही हैं। इस साल तक इनमें उत्पादन चालू हो जाएगा। इसके जरिए करीब 1500 हजार कारीगरों व श्रमिकों को रोजगार मिलेगा। 

जर्मनी की कंपनी वाइका इंस्ट्रमेंटस ने गाजियाबाद में  परियोजना के लिए जमीन ली है। यूके की वेबले स्काट कंपनी हरदोई में प्लांट लगा रही है। इसी तरह ब्रिटानिया, डिक्सान कंपनियों की परियोजनाओं पर काम हो रहा है। आईटी, खाद्य प्रसंस्करण, कम्प्यूटर साफ्टवेयर, मोबाइल सेट, आटोमोबाइल, इंफ्रास्ट्रक्चर, दवा व रसायन व पर्यटन आदि क्षेत्रों में निवेश परियोजनाओं की आधारशिला रखी जाएगी।  सूर्या ग्लोबल, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एमजी कैप्सूल, केशो पैकेजिंग, माउंटे व्यू टेक्नोलॉजी, आईनाक्स, एयर लिक्विड  जैसी कंपनियों को जमीन आंवटित करा दी है।

कंपनी                                निवेश  (करोड़ रुपये)                                           जिला 
एबी मौरी           फूड पार्क                        1100                                            पीलीभीत 
पेप्सिको            चिप्स                             814                                               मथुरा 
आईनाक्स          ऑक्सीजन प्लांट                 150                                                 रायबरेली
रिमझिम            इस्पात परियोजना                266                                                 हमीरपुर 
 ब्रिटानिया            फूड पार्क                     166                                                हरदोई 
डिस्टलरी                                           185                                                देवरिया
आदित्य बिड़ला समूह                               663                                               सुल्तानपुर 
अमूल                दूध उत्पाद                   470                                                 वाराणसी 
हिंदुस्तान यूनिलीवर    डिटर्जेंट                     100                                                 हमीरपुर 
डालमिया              सीमेंट                        600                                                मिर्जापुर 
माइक्रोसाफ्ट           साफ्टवेयर डवलपमेंट सेंटर  2100                                               नोएडा
हीरानंदानी             डाटा सेंटर                     9100                                             नोएडा 
अडानी               डाटा सेंटर                     4500                                               नोएडा   



Previous Post Next Post