विश्व का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश बनाने में बाबा साहेब अम्बेडकर का योगदान:: मंत्री संजय निषाद


लखनऊ/गोरखपुर (मानवी मीडिया) निषाद पार्टी के  राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं कैबिनेट मंत्री मत्स्य विभाग उ.प्र सरकार डॉ संजय कुमार निषाद अपने गृह जनपद गोरखपुर के दौरे पर। अनुसूचित जाति/ जनजाति कर्मचारी कल्याण समिति द्वारा आयोजित भारत रत्न डॉ भीम राव अम्बेडकर  जयंती समारोह में पहुंचकर । भारत रत्न संविधान निर्माता डॉ भीमराव अम्बेडकर  की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किया।

डॉ भीमराव अम्बेडकर  की जयंती पर संजय निषाद ने बताया कि भारत को विश्व का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश बनाने में बाबा साहेब अम्बेडकर का योगदान महत्वपूर्ण है। भारत का संविधान सबको बराबर का हक और कानून देता है। उन्होंने बताया कि संविधान शब्द ही दो शब्दों को जोड़कर बनाया गया है सम और विधान जिसमें सम का अर्थ है समान और विधान का अर्थ है कानून। आज भारत का संविधान सबके लिए बराबर है चाहे वो देश का प्रधानमंत्री हो, राष्ट्रपति हो या मजदूर हो। भारतीय संविधान की खूबसूरती को देखिए आज दलित का बेटा ही देश के सबसे उच्च पद पर विराजमान हो सकता है वो भी राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री बन सकता है। डॉ निषाद ने पार्टी कार्यालय में जनता को संबोधित करते हुए कहा कि बाबा साहेब ने हमें ऐसा संविधान दिया जिसमे राष्ट्रपति का वोट और एक गरीब का वोट भी एक समान होता है।

भारत देश भगवान बुद्ध का देश है जिन्होंने शांति और सेवा का ज्ञान दिया था वैसे ही बाबा साहेब ने देश और गरीबों के सेवा में अपना जीवन न्यौछावर कर दिया। साथ ही उन्होंने कहा कि आज भाजपा मोदी जी की अगुवाई में देश सेवा कर रही है हमारा सौभाग्य है कि उन्होंने मुझे भी कैबिनेट मंत्री के रूप में जनता का सेवा करने का अवसर प्रदान किया है। डॉ भीमराव अम्बेडकर  की जयंती पर  निषाद ने आगे कहा कि हमें भी बाबा साहेब के बताए रास्ते पर चलना होगा तभी देश में सबको समानता का अधिकार मिलेगा और देश में फिर से रामराज्य आएगा क्योंकि बिना संविधान के रामराज्य का परिकल्पना करना बेईमानी होगा।

Previous Post Next Post