शहरों को सुंदर बनाने के लिए 60 दिवसीय विशेष अभियान,1533 नंबर पर होगा नागरिकों की शिकायतों का निस्तारण


लखनऊ (मानवी मीडिया)उत्तर प्रदेश के नगर विकास, शहरी समग्र विकास, नगरीय रोजगार एवं गरीबी उन्मूलन मंत्री ए0के0शर्मा ने नगरीय निकायों में सुविधाओं को बढ़ाने तथा शहरों को सुंदर बनाने के लिए आज से 60 दिन विशेष अभियान की शुरुआत की। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों/पदाधिकारियों के साथ वर्चुअल बैठक कर नागरिक सुविधाओं को बढ़ाने के लिए न्यूनतम कार्य के आधार पर चार बिंदुओं पर सख्ती से कार्य करने के निर्देश दिए। साथ ही नगर की आधारभूत व्यवस्था को भी मजबूत करने पर बल दिया।

        नगर विकास मंत्री आज स्थानीय निकाय निदेशालय में सभी नगर निकायों के प्रमुखों/नगर आयुक्तों तथा अधिकारियों के साथ 60 दिवसीय विशेष अभियान को लेकर वर्चुअल बैठक कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने निर्देशित किया कि प्रधानमंत्री की स्वच्छ भारत की मंशानुरूप एवं मुख्यमंत्री  की जनकल्याण की भावनाओं तथा नागरिकों की अपेक्षाओं के अनुरूप खरा उतरने के लिए सभी अधिकारी/कर्मचारी एवं पदाधिकारी अपने कार्य संस्कृति में बदलाव लाकर निकायों में सुविधाओं को बढ़ाने तथा शहरों को सुंदर बनाने के कार्य में अभी से लग जाएं। उन्होंने कहा कि सुबह उठते ही अपने वातावरण एवं घर के आसपास की साफ-सफाई करने की हमारी संस्कृति रही है, जिसे पुनः स्थापित करना है।इसके लिए हमें न्यूनतम काम के आधार पर खासतौर से 04 बिंदुओं पर सख्ती से कार्य करना होगा।उन्होंने कहा कि नगरों की सुबह 5ः00 से 8ः00 बजे के बीच नियमित रूप से साफ-सफाई होनी चाहिए, जिससे कोई भी नगर पहले की अपेक्षा ज्यादा सा-सुथरा दिखे। इसके अलावा लिगेसी बेस्ट कचरे के ढेर की नियमित रूप से सफाई की जाए। इसके लिए डोर टू डोर कूड़े के कलेक्शन पर विशेष ध्यान दें और इसको मजबूती से लागू भी कराएं ।बरसात में पानी का कहीं भराव ना हो, इसके लिए नाली/नालों की सफाई व्यवस्था सुनिश्चित हो। इसका पानी सड़कों पर न आने पाए, इसके प्रयास हो। साथ ही ज्यादा कमर्शियल/भीड़भाड़ वाली जगहों पर कठोरता से साथ सफाई सुनिश्चित कराई जाए। ऐसी जगहों पर दोपहर बाद भी दोबारा सफाई की व्यवस्था हो यह सुनिश्चित किया जाए।

         ए0के0 शर्मा ने कहा कि किसी भी नगर को अच्छे से श्रेष्ठ की ओर ले जाने के लिए इसके आधारभूत ढांचागत व्यवस्थाको मजबूत बनाना होगा। इसके लिए अगले 05 सालों में प्रदेश के विभिन्न शहरों में 1000 अमृत सरोवर बनाए जाएंगे जो कि प्रधानमंत्री जी के आजादी के अमृत महोत्सव के ड्रीम प्रोजेक्ट से सम्बधित होंगे। यहां के नागरिकों को एक अच्छा, स्वच्छ वातावरण मिले, यह हमारी जिम्मेदारी ही नहीं बल्कि प्राथमिक कर्तव्य भी है। जिसे हर हाल में पूरा करना होगा और उनके क्वालिटी आफ लाइफ को बढ़ाना होगा। उन्होंने कहा कि हमारा प्रदेश वैश्विक स्तर पर जनसंख्या की दृष्टि से पांचवें स्थान पर है। इस दृष्टि से दुनिया को आकर्षित करने के लिए प्रदेश के पर्यटन स्थलों पर विशेष साफ सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने निर्देशित किया कि नगर के सभी सुपरवाइजर लोगों की सुविधा के लिए अपने-अपने क्षेत्रों में नाम नंबर दर्शाने वाले नोटिस बोर्ड अवश्य लगाएं।

     नगर विकास मंत्री ने कहा कि लोगों को स्वस्थ वातावरण मिले इसके लिए शहर के एयर क्वालिटी इंडेक्स में सुधार हो। इसके लिए खाली जगहों पर पौधे और घास लगाई जाए। नाली/नालों की सफाई कराई जाए, चौराहों का सौंदर्यीकरण कराया जाए। इन सभी कार्यों में निजी/सामाजिक भागीदारी लेने की परंपरा को भी विकसित किया जाए।

    नगर विकास मंत्री ने कहा कि नगरों की सड़कों के निर्माण पर विशेष ध्यान दें। इनके निर्माण पर किसी भी प्रकार का भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। सड़क बनाने में 100 प्रतिशत पैसों का सदुपयोग हो। नगर के सुंदरीकरण पर विशेष ध्यान दें। साथ ही लोगों को अपने गंतव्य तक जाने में परेशानी ना हो, इसके लिए उचित साइन बोर्ड भी लगाए जाएं। नगरों से संबंधित संस्कृति, महापुरुषों, थीम पर आधारित विशेषताओं को विकसित किया जाए तथा पब्लिसिटी के लिए बोर्ड लगाने हेतु स्थान चिन्हित कर इन्हें कमर्शियली उपलब्ध कराया जाए। साथ बड़े नगरों पर डिजिटल बोर्ड भी लगाये जाने की व्यवस्था की जाए।

      उन्होंने सभी पदाधिकारियो तथा नगर आयुक्तों से प्रतिदिन जनता की समस्याओं को सुनने के लिए प्राथमिकता पर जनसुनवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि नगर विकास विभाग ने जन शिकायतों के निस्तारण के लिए 04 डिजिट का नंबर 1533 को शीघ्र ही संचालित कर इसे लोगो को उपलब्ध कराया जाएगा।उन्होंने सभी निकायों में जन सुविधाओं/जनकल्याण के लिए कार्य किए जाने के निर्देश दिए।भ्रष्टाचार पर अंकुश रखने तथा इस पर सतर्कता बरतने के निर्देश दिए।

     उन्होंने कहा कि नागरिकों को पानी से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्या ना हो। इसके लिए एक सेल बनाया जाए जिससे पीने के पानी की, गंदे पानी, पानी ना आना तथा पानी की बर्बादी आदि से संबंधित शिकायतों का शीघ्र निस्तारण किया जा सके। उन्होंने स्ट्रीट लाइट दिन भर ना जले, इसको समय से बंद करवाने की भी व्यवस्था की जाए, जिससे कि विभाग में वित्तीय भार ना बढ़े, इसके निर्देश दिए।

नगर विकास मंत्री ने आज सुबह इकाना स्टेडियम के पास सफाई व्यवस्था का निरीक्षण किया और सफाई कर्मियों का उत्साह वर्धन करते हुए उन्हें सफाई मित्र कहकर सम्बोधित किया और उनके साथ फोटो भी खिचवाई।

      बैठक में अपर मुख्य सचिव नगर विकास डॉ रजनीश दुबे ने आश्वस्त किया कि मंत्री  के निर्देशो का कड़ाई से अनुपालन कराया जाएगा तथा उनकी अपेक्षाओं पर यह विभाग खरा उतरेगा  इसके लिए शीघ्र ही माकूल व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। बैठक में सभी महापौर नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष,नगर पंचायतों के प्रमुख, सचिव नगर विकास  अनिल कुमार तथा  अनुराग यादव, डायरेक्टर  शकुंतला गौतम, विशेष सचिव  इंद्र मणि त्रिपाठी सभी नगर आयुक्त तथा विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Previous Post Next Post