अखिलेश यादव के तेवर, जनता ने परिवर्तन का मन बना लिया:: अखिलेश यादव

 


जौनपुर ( मानवी मीडिया)समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री  अखिलेश यादव ने आज जौनपुर जनपद में सघन चुनाव प्रचार करते हुए समाजवादी पार्टी के प्रत्याशियों के समर्थन में पांच जनसभाएं की। उन्होंने बड़ी संख्या में एकत्र जनसमुदाय को सम्बोधित करते हुए कहा कि ऐसा पहली बार दिख रहा है कि उत्साही जनता खुद भाजपा से लड़ रही है। जनता ने परिवर्तन का मन बना लिया है और अब छठे, सातवें चरण में भाजपा का खाता भी नहीं खुल पाएगा। भाजपा नेता पूरे प्रदेश में घूम रहे है और जिनको हार का सबसे ज्यादा डर है वे पहले से ही वाराणसी पहुंच गए है। उन्होंने कहा भाजपा को अपनी हार का अंदाजा हो गया है इसलिए उनकी गाड़ियों और आवासों से झंडा उतर गए है।

     अखिलेश यादव ने कहा कि कहने को तो भाजपा दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी है लेकिन काम और वादो का आकलन करेंगे तो दुनिया की सबसे झूठी पार्टी भाजपा नजर आएगी। किसानों की आय दुगनी करने का वादा किया वह तो पूरा नहीं किया महंगाई और बेरोजगारी बढ़ा दी। जब पिछली बार वोट चाहिए था तो इन्होंने फ्री सिलेण्डर बांटे थे अब आज वोट मांगने आए है तो सिलेण्डर का दाम हजार रूपए हो गया है। पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ गए है। भाजपा की फिर सरकार बनी तो पेट्रोल हजार रुपए से ऊपर मिलेगा।

    यादव ने कहा कि भाजपा राज में गरीबों की जेब काटकर अमीर उद्योगपतियों की तिजोरी भरी गई है। भाजपा ने नौजवानों को ठगा हैं, नौकरियां देने का झूठा वादा किया। प्रदेश सरकार के विभिन्न विभागों में 11 लाख पद खाली है। इनमें सबसे ज्यादा पद शिक्षा विभाग के है। समाजवादी सरकार बनने पर पुलिस, शिक्षा विभाग समेत सभी विभागों में भर्ती निकाल कर नौजवानों को नौकरी देंगे। जो गर्मी निकालने की बात करते थे अब वे ठंडे पड़ रहे हैं। हम नौजवानों के लिए फौज और पुलिस में भर्ती निकालेंगे। बीपीएड, बीएड, बीटीसी, टेट, अनुदेशकों, शिक्षामित्रों तथा रोजगार सेवकों की मदद करेंगे।  

  अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार ने गरीबों, पिछड़ों, दलितों का हक छीना है। समाजवादी सरकार बनने पर 3 महीने में जातीय जनगणना करा कर सभी जातियों को उनका हक और सम्मान देंगे। भाजपा जातियों को आपस में लड़ाती है, लेकिन हक और सम्मान नहीं देती है।

 अखिलेश यादव ने कहा कि तीन काले कृषि कानून लाकर भाजपा ने किसानों की जमीन और फसल को छीनने की साजिश रची गई। किसानों ने आंदोलन के बल पर भाजपा सरकार को झुकने पर मजबूर  कर दिया। किसान आंदोलन में 700 से ज्यादा किसान शहीद हुए। इसी तरह से भाजपा सरकार ने नौकरी मांग रहे नौजवानों पर लाठियां बरसाई। भाजपा सरकार में किसानों को समय पर खाद नहीं मिल पाई। किसान की खाद की बोरी से 5 किलो खाद की चोरी हो गई।

    अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार में महाविद्यालयों और विश्वविद्यालयों में नौजवानों के लिए रोजगार के नए कोर्स शुरू कराएंगे। आईटी के क्षेत्र में 22 लाख युवाओं को नौकरी और रोजगार दिया जाएगा। किसानों को सिंचाई मुफ्त होगी। घरेलू बिजली 300 यूनिट फ्री होगी। फसलों की खरीद एमएसपी पर होगी। मंडिया बनाई जाएंगी। छात्रों को लैपटॉप दिया जाएगा।

    अखिलेश यादव ने कहा कि जौनपुर में मेडिकल कॉलेज समाजवादी सरकार ने दिया था। फिर समाजवादी सरकार आएगी तो ऐसा मेडिकल कॉलेज बनाया जाएगा जिससे यहां के गरीबों को निःशुल्क इलाज यहीं पर मिल सकेगा। बाहर इलाज के लिए नहीं जाना पडे़गा।

    अखिलेश यादव ने याद दिलाया कि कोरोना काल में बीमार लोगों को न इलाज मिला न दवाई, अस्पतालों में बेड और ऑक्सीजन तक नहीं मिली। तमाम लोगों की सांसे थम गई। लॉकडाउन के दौर में हजारों गरीब मजदूर पैदल चल कर आए उनकी कोई मदद सरकार ने नहीं की। कुछ तो अपने घरों तक पहुंचने से पहले ही रास्ते में अपने प्राण गंवा बैठे। भाजपा सरकार ने तब आंखें मूंद ली थी। समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने ही उनकी मदद की।

     अखिलेश यादव ने कहा कि 102 और 108 नं0 एम्बुलेंस सेवा समाजवादी सरकार ने मरीजों और गरीबों की मदद के लिए शुरू की थी। समाजवादी सरकार उनकी संख्या दुगनी करेगी। अपराध नियंत्रण के लिए यूपी डायल 100 सेवा शुरू की थी उसका नम्बर 112 बदलकर भाजपा सरकार ने उसे बर्बाद कर दिया। तीन साल में बच्चों की पढ़ाई चौपट हो गई। भाजपा ने उनकी सुध नहीं ली ऑनलाइन पढ़ाई में तब समाजवादी सरकार में बांटे गए लैपटॉप काम आए। भाजपा सरकार ने लैपटॉप या स्मार्टफोन नहीं बांटे।

    अखिलेश यादव ने कहा कि पांच वर्ष तक भाजपा ने जनता के साथ धोखा किया है। इस चुनाव में भाजपा धुआं धुआं हो जाएगी।

Previous Post Next Post