भाजपा मंत्री, महानगर अध्यक्ष, सहित वरिष्ठ नेताओं, कार्यकर्ताओं ने देखी 'द कश्मीर फाइल्स'

'वंदे मातरम, भारत माता की जय के गूंजे जयकारे

लखनऊ (मानवी मीडिया) राजधानी लखनऊ में कश्मीर फाइल्स फिल्म देखने के लिए भाजपा लखनऊ महानगर नेताओं द्वारा पूरा थियेटर ही बुक कर लिया गया. एक साथ 212 लोगों को फिल्म देखने के लिए बुलाया गया इसमें मंत्री बृजेश पाठक, महानगर अध्यक्ष मुकेश शर्मा, वरिष्ठ नेता नीरज सिंह, विधायक प्रत्याशी अंजनी श्रीवास्तव, रजनीश गुप्ता, समेत बीजेपी लखनऊ महानगर पदाधिकारी, मंडल अध्यक्ष, पार्षदगण सभी मोर्चों के अध्यक्ष व महामंत्री के अतिरिक्त प्रकोष्ठों एवं विभागों के महानगर संयोजक भी मुख्य रूप से शामिल रहे।
मीडिया प्रभारी प्रवीण गर्ग ने बताया कि लाल बाग स्थित नोवेल्टी सिनेमा हॉल में बृहस्पतिवार को अपराह्न 1:30 बजे के शो में सभी ने एक साथ फिल्म देखी और सजीव व मार्मिक चित्रण की सराहना की।

इस दौरान पूरा हॉल वंदे मातरम्, भारत माता के जयकारों से गूंजता रहा।

फिल्म देखने के उपरांत बृजेश पाठक ने कहा कि कश्मीरी पंड़ितों पर जिस तरीके से अत्याचार हुए, वह दृश्य हृदय विदारक था। फिल्म में इसका यथार्थ चित्रण किया गया है। इस फिल्म को देखने के बाद लोगों को सच्चाई का पता चलेगा। उन्होंने कहा कि जनता निरपेक्ष विश्लेषण कर सकेगी कि कांग्रेस की तुष्टिकरण की नीति ने देश की एकता, अखंडता को किस तरह प्रभावित किया है।

महानगर अध्यक्ष मुकेश शर्मा ने फिल्म देखने के उपरांत कहा कि कश्मीरी पंडितों के साथ कश्मीर में जो मानवीय त्रासदी हुई थी, फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' उसका सजीव और मार्मिक चित्रण है। उन्होंने जो दर्द झेला है, उसे फिल्म में दृश्यांकित किया है। भारत के स्वर्ग कहे जाने वाले कश्मीर में उन्हें इतनी प्रताड़ना दी गई कि उन्हें कश्मीर छोड़ना पड़ा।मोदी सरकार ने जम्मू कश्मीर से 370 को खत्म कर देश के बुनियादी और वैचारिक मुद्दे का समाधान किया है।

 यह आजादी के बाद हमारे अपने देश में अपनी धरती अमानुषिक अत्याचार को प्रदर्शित करने वाली यह फिल्म है। इसे जिस साहसिक ढंग फिल्मांकित किया गया, उसके लिए निर्माता निर्देशक विवेक अग्रिहोत्री व अभिनेता अनुपम खेर बधाई के पात्र हैं। इसमें जो सच बताया गया है, उसे सबको देखना चाहिए।

नीरज सिंह ने कहा कि जिस मार्मिकता तथा यथार्थ के साथ फिल्मांकन किया गया है वह अपने में सराहनीय है। फिल्म में किये गये यथार्थ चित्रण की मैं सराहना करता हूं और मंत्री योगी आदित्यनाथ जी का मैं आभार व्यक्त करता हूं की मेरे द्वारा लिखे गए पत्र का संज्ञान लेते हुए उन्होंने प्रदेश में फिल्म को टैक्स फ्री किया।



Previous Post Next Post