बुलंदशहर के पॉलिटेक्निक कॉलेज में ब्‍लास्‍ट


बुलंदशहर
(मानवी मीडिया) : उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में एक बड़ी खबर सामने आई है, जहां पॉलिटेक्निक कॉलेज में ब्लास्ट हुआ है। इस हादसे में 10 स्टूडेंट समेत 13 लोग झुलस गए हैं। कुछ की हालत नाजुक बताई जा रही है। सभी घायलों को बुलंदशहर से अलीगढ़ रेफर कर दिया गया है। 

जानकारी के मुताबिक, पॉलिटेक्निक कॉलेज के होस्टल के किचन में रसोई गैस  का सिलेंडर फट गया। इस हादसे में पॉलिटेक्निक कॉलेज के 10 छात्र समेत 13 लोग झुलस गए हैं। इनमें से दो की हालत नाजुक बनी हुई है। सभी घायल छात्रों को रेस्क्यू कर अलीगढ़ हायर मेडिकल सेंटर में भर्ती कराया गया है। फिलहाल सभी घायलों का इलाज चल रहा है।

जानकारी के अनुसार, खाना बनाने के दौरान किचन में अचानक 5 किलोग्राम वाला गैस सिलेंडर फट गया। बुलंदशहर के डिबाई तहसील के पीछे स्थित राजकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज के छात्रावास का मामला बताया जा रहा है। धमाके की आवाज सुनकर कॉलेज परिसर के साथ ही आसपास के इलाकों के लोग भी सहम गए। घटनास्‍थल से तत्‍काल सभी घायलों को निकाला गया और उन्‍हें अस्‍पताल भेजा गया, ताकि समय पर इलाज संभव हो सके।

धमाके में होस्‍टल के किचन को काफी नुकसान पहुंचा है। बता दें कि पिछले साल आजमगढ़ के निजामाबाद थाना क्षेत्र के डोडोपुर गांव में रसोई गैस सिलेंडर में ब्लास्ट हुआ था। तब हुए विस्फोट से मकान ध्वस्त हो गया था। मकान के मलबे में दबने से 11 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। सभी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पुलिस अधीक्षक यातायात सुधीर जायसवाल, एसडीएम राजीव रत्न सिंह भारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए थे। वहीं पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह जिला अस्पताल में जाकर घायलों का हालचाल जाना था।

निजामाबाद थाना क्षेत्र के डोडोपुर गांव निवासी लालमन की बहू जासमीन अपनी ननद नाज के साथ भोजन बनाने के लिए किचन में गई थी। जैसे ही उसने गैस जलाया गैस सिलेंडर में आग लग गयी। रिसाव के कारण लगी आग को देख दोनों घबराकर बाहर की तरफ भागी और शोर मचाया। उस समय परिवार का कोई सदस्य मौजूद नहीं था। दोनों के शोर मचाते हुए बाहर आते देख पास पड़ोस के लोग मौक पर पहुंच गए और आग लगने की जानकारी होने पर अपने-अपने तरीके से आग बुझाने में जुट गए। आग बुझाने के चक्कर में कई लोग झुलस गए थे। तभी सिलेंडर में तेज विस्फोट हुआ और दो कमरे का मकान पूरी तरह ध्वस्त हो गया था। आग बुझाने की कोशिश में जुटे लोग मलबे में दब गए थे।

Previous Post Next Post