शिव मंदिर में तोड़फोड़ के बाद ऐक्शन में आई पुलिस, मीट की दुकानों पर चलवाया बुलडोजर


नोएडा (मानवी मीडिया नोएडा के बहलोलपुर गांव स्थित शिव मंदिर में असामाजिक तत्वों ने रविवार रात को तोड़फोड़ करने के साथ ही शिवलिंग और मंदिर में रखी मूर्तियां भी खंडित कर दीं। इसके साथ ही मंदिर के फर्श पर खून के भी निशान थे। सोमवार सुबह जब ग्रामीण मंदिर पहुंचे तो अंदर का नजारा देख आग बबूला हो गए। इसके बाद काफी संख्या में ग्रामीण मौके पर एकत्र हो गए और हंगामा कर दिया। मंदिर के अंदर मांस फेंके जाने की अफवाह के बाद सोमवार दोपहर को पुलिस ने बहलोलपुर में स्थित मीट की दुकानों पर बुलडोजर चला कर उन्हें ध्वस्त कर दिया। 

नोएडा पुलिस ने मंदिर में तोड़फोड़ की जांच शुरू की

पुलिस उपायुक्त (मध्य नोएडा) हरीश चंदर ने बताया कि स्थानीय पुलिस को बहलोलपुर गांव में एक शिव मंदिर के अंदर तोड़फोड़ के बारे में सूचना मिली थी। उन्होंने कहा कि फॉरेंसिक विशेषज्ञों और डॉग स्क्वॉड के साथ पुलिस की एक टीम तुरंत घटनास्थल पहुंची, जहां एक मूर्ति क्षतिग्रस्त हालत में मिली।

अपर पुलिस उपायुक्त (जोन द्वितीय) इला मारन ने बताया कि घटनास्थल पर खून के धब्बे भी मिले हैं, जो प्रथम दृष्टया मानव रक्त की तरह दिखते हैं। जाहिर है, शीशे के आवरण में रखी मूर्ति को निकालने के लिए जिस व्यक्ति ने शीशा तोड़ा होगा उसे चोट लग गई होगी और उसका खून गिर गया होगा।

डीसीपी चंदर ने कहा कि पुलिस मामले में हर दृष्टिकोण से जांच कर रही है और इस अफवाह का खंडन किया कि मंदिर परिसर के अंदर मांस का एक टुकड़ा भी पड़ा हुआ था। उन्होंने कहा कि पुलिस ने मंदिर के पुजारी से भी संपर्क किया है, जो रात में अपने घर चला गया था और सुबह मंदिर आने पर उसने तोड़फोड़ देखी।

डीसीपी ने कहा कि घटना के समय मंदिर के पुजारी को बंधक बनाए जाने की अफवाह भी गलत है। उन्होंने कहा कि गांव में कानून-व्यवस्था की स्थिति नियंत्रण में है और मामले में एफआईआर दर्ज कर आगे की जांच की जा रही है।  


Previous Post Next Post