मुख्यमंत्री योगी ने बच्चों के कोविड टीकाकरण अभियान का किया शुभारम्भ

लखनऊ: (मानवी मीडिया)उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  ने आज प्रदेश में 12 से 14 आयु वर्ग के बच्चों के कोविड टीकाकरण अभियान का शुभारम्भ डॉ0 श्यामा प्रसाद मुखर्जी (सिविल) चिकित्सालय में किया। इस अवसर पर उन्होंने चिकित्सालय के वैक्सीनेशन सेन्टर का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने टीकाकरण के लिए आये बच्चों से संवाद किया तथा टीकाकरण के केन्द्र की व्यवस्थाओं को देखा। उन्होंने अधिकारियों को टीकाकरण कार्य भारत सरकार की गाइडलाइन्स के अनुरूप संचालित करने के निर्देश दिए।

निरीक्षण के पश्चात मुख्यमंत्री  ने मीडिया प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस सदी की सबसे बड़ी महामारी कोरोना के खिलाफ लड़ाई को प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी  के नेतृत्व एवं मार्गदर्शन में देश ने पूरी मजबूती के साथ लड़ी है। उन्होंने कहा कि दुनिया ने भारत के कोरोना प्रबन्धन की न केवल मुक्त कंठ से प्रशंसा की, बल्कि सर्वत्र भारत के कोरोना मॉडल को अपनाया गया है।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी पूरी तरह से नियंत्रण में है। प्रधानमंत्री  के मार्गदर्शन एवं नेतृत्व में कोरोना के खिलाफ लागू किए गये 4 टी फॉर्मूले के तहत ट्रेस, टेस्ट, ट्रीट और टीका, इन सभी में उत्तर प्रदेश अग्रणी है। सर्वाधिक टेस्ट करने वाला राज्य उत्तर प्रदेश है। साथ ही, सर्वाधिक वैक्सीनेशन करने वाला राज्य भी उत्तर प्रदेश है। राज्य में अब तक 29 करोड़ 54 लाख से अधिक वैक्सीन की डोज दी जा चुकी हैं। प्रदेश में वैक्सीन की पहली डोज के 100 प्रतिशत के लक्ष्य को क्रॉस किया जा चुका है। अब तक 103 प्रतिशत से ऊपर वैक्सीन की प्रथम डोज पूरे प्रदेश में उपलब्ध करवाई जा चुकी है। सेकेण्ड डोज भी प्रदेश में 82 प्रतिशत से अधिक लोगों ने ले ली है।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि 97 प्रतिशत हेल्थ वर्कर्स, कोरोना वॉरियर्स तथा कोमॉर्बिड सीनियर सिटिजन को प्रिकॉशन डोज उपलब्ध करवायी जा चुकी है। 15 से 17 आयु वर्ग के बच्चों के वैक्सीनेशन मंे उत्तर प्रदेश ने बहुत अच्छी सफलता प्राप्त की है। प्रदेश में इस आयु वर्ग में 01 करोड़ 29 लाख 22 हजार से अधिक वैक्सीन की प्रथम डोज दी गई है, जो लगभग 92 प्रतिशत है। इस आयु वर्ग के 65 लाख 50 हजार बच्चों को सेकेण्ड डोज भी उपलब्ध करवायी गई है, जो कुल संख्या का लगभग 47 प्रतिशत है।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि कोरोना महामारी के खिलाफ देश की इस लड़ाई को आगे बढ़ाने के लिए आज से 12 से 14 आयु वर्ग के बच्चों को वैक्सीन की डोज दी जा रही है। प्रदेश के 300 केन्द्रों में यह वैक्सीन उपलब्ध करवाई जा रही है। प्रदेश में 12 से 14 आयु वर्ग के 84 लाख 64 हजार बच्चें हैं। इन सभी के लिए प्रर्याप्त वैक्सीन उपलब्ध है। उन्होंने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि बच्चे बड़ी उत्सुकता एवं उत्साह के साथ वैक्सीनेशन सेण्टर पर आये हैं।मुख्यमंत्री  ने कहा कि भारत सरकार के सहयोग से इस सदी की सबसे बड़ी महामारी पर प्रदेश सरकार द्वारा शीघ्र ही नियंत्रण करने में सफलता प्राप्त की है। कोरोना महामारी की थर्ड वेव पूरी तरह नियंत्रित है। इस समय प्रदेश में एक्टिव केसेज की संख्या मात्र एक हजार के आस-पास है। उन्होंने कहा कि विशेषज्ञों को आशंका है कि फोर्थ वेव भी आ सकती है। इसलिए सतर्कता और सावधानी बरतना आवश्यक है। उन्होंने इस सम्बन्ध में लोगों से अपील करते हुए कहा कि सार्वजनिक स्थानों पर जाएं तो मास्क का प्रयोग अवश्य करें। किसी वस्तु को छूने पर हाथ को अवश्य धोयें या सैनिटाइज करें। वैक्सीन समय पर अवश्य ले लें।

मुख्यमंत्री  ने विश्वास व्यक्त करते हुए कहा कि 12 से 14 आयु वर्ग के सभी 84 लाख 64 हजार से अधिक बच्चों को कोरोना की वैक्सीन उपलब्ध कराकर एक सुरक्षा कवच प्रदान किया जाएगा। उन्होंने प्रदेशवासियों की ओर से सबको फ्री में वैक्सीन देने के अभियान के लिए प्रधानमंत्री  के प्रति आभार व्यक्त करते हुए सफलतापूर्वक वैक्सीनेशन ड्राइव चलाने और कोरोना महामारी पर नियंत्रण करने के लिए उनका अभिनन्दन किया।

Previous Post Next Post