ओडिशा सरकार ने उत्तर प्रदेश निवेशकों से करी परिचर्चा


लखनऊ (
मानवी मीडिया) उड़ीसा सरकार ने भारतीय उद्योग परिसंघ के साथ मिल कर सम्मिलित रूप से एक सम्मलेन का आयोजन किया जिसमें उड़ीसा सरकार के प्रमुख सचिव उद्योग ने उद्दमियो के समक्ष उड़ीसा प्रदेश में विद्दमान अवसरों के बारे में बताया | उड़ीसा का विकास मॉडल पत्तन आधारित होने के साथ ही साथ मिनरल्स, खनिज, खाद्य प्रसंस्करण तथा कपडा आधारित भी है |

व्यापर की सुगमता, नीति-नियोजन तथा राजनैतिक स्थिरता के चलते प्रदेश में एक सशक्त औद्योगिक वातावरण देखने को मिलता है | सभा को सम्बोदित करते हुए  हेमंत शर्मा, प्रमुख सचिव उद्योग एवं अध्यक्ष, ईडिको एवं ईपीकोल, उड़ीसा सरकार ने सभा में उपस्थित सभी उद्योगपतियों से उड़ीसा में विद्द्मान औद्योगिक अनुकूल वातावरण का लाभ उठाने का आग्रह किया | उन्होंने प्रदेश में विद्द्मान प्रचुर मात्रा में विद्द्मान प्राकृतिक सम्पदा के बारे में बताते हुए कहा की यह उद्योग को नयी ऊचाइयों तक लेजाने में मील का पत्थर साबित होंगी | उन्होंने यह भी बताया की खनिज के साथ ही साथ उड़ीसा समुद्र प्रसंस्करण तथा उद्योग प्रौद्योगिकी, सूचना प्रौद्योगिकी, खाद्य प्रसंस्करण, कपड़ा के क्षेत्र में भी अग्रणी है |

 शर्मा ने अपने अभिभाषण में बताया की किस प्रकार राज्य, उद्योग की आधुनिक ज़रूरतों के हिसाब से नीति-नियोजन कर रहा है | इन नीतियों का प्रभाव खनिज, एयरोस्पेस, रक्षा, इलेक्ट्रॉनिक्स आदि के क्षेत्रों में प्रोत्साहन के रूप में देखा जा सकता है |

सभा को धन्यवाद करते हुए  सुभेन्द्र कुमार नायक, ओएएस, उपसचिव उद्योग, उड़ीसा सरकार ने कहा की उत्तर प्रदेश का यह दौरा उनके लिए एक नया अनुभव है और वे चाहेंगे की उत्तर प्रदेश के इस एमएसएमई विनिर्माण आधारित औद्योगिक विकास के मॉडल को उड़ीसा में भी स्थापित किया जाये जो की पहले से ही विनिर्माण का एक बड़ा केंद्र है |

सभा को सम्बोधित करते हुए 

 अंकित गुप्ता, पूर्व अध्यक्ष, सीआईआई उत्तर प्रदेश एवं निदेशक, दयाल ग्रुप ने बताया की उड़ीसा की ग्रोथ स्टोरी आद्यंत प्रसंसनीय है | प्रदेश में विद्द्मान खनिज श्रोत, पावर तथा खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र के लिए अत्यधिक महत्वपूर्ण है |

सचिन अग्रवाल, अध्यक्ष एसआईडीएम उत्तर प्रदेश तथा सीएमडी पी टी की इंडस्ट्रीज ने उत्तर प्रदेश की ग्रोथ स्टोरी पर चर्चा करते हुए बताया की किस प्रकार विनिर्माण क्षेत्र राज्य की जीडीपी को मज़बूत बनाने में निर्णायक साबित होता है |

 रोहित अग्रवाल, निदेशक, रिमझिम स्टेनलेस स्टील एवं बीआरजी आयरन & स्टील लिमिटेड ने उड़ीसा में अपने अनुभव को बताते हुए कहा की उड़ीसा में इस ऑफ़ डूइंग बिज़नेस मॉडल अत्यंत प्रशंसनीय है |

 शुभम गुप्ता, निदेशक, विक्रांत ग्रुप ने बताया की उड़ीसा का पत्तन आधारित विकास मॉडल पूर्वी भारत के विकास इंजन के रूप में देखा जा सकता है |

सत्र में उद्योग, अकादमिक और अनुसंधान संस्थानों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

ओडिशा के प्रतिनिधिमंडल ने शनिवार को रिमझिम स्टेनलेस लिमिटेड और पीटीसी इंडस्ट्रीज की फैक्टरियों का भी दौरा किया और साथ ही साथ निवेश हितों को आगे बढ़ाने के लिए बिजनेस-टू-गवर्नमेंट बैठकें कीं। त्रिवेणी अलमीराः, गोल्डी समूह, एसएन पैकेजिंग, वीर्यविन रक्षा और JKEW फोर्जिंग जैसी कंपनियों ने B2G मीटिंग में भाग लिया |

Previous Post Next Post