मनमोहन सिंह ने साधा सरकार पर निशाना

 


नई दिल्ली (मानवी मीडियाचुनावी संग्राम के बीच राजनीतिक दलों का एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप जारी है. ऐसे में नेता एक दूसरे पर हमला करने से भी चूक नहीं रहे हैं. इसी कड़ी में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने केंद्र सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने पंजाब चुनाव से ठीक पहले एक वीडियो संदेश जारी कर मोदी सरकार पर आरोप लगाए हैं.

गलती सुधारने के बजाय नेहरू को ठहरा रहे जिम्मेदार

मनमोहन सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार साढ़े सात साल की अपनी गलतियों को सुधारने की बजाय देश के पहले प्रधानमंत्री नेहरू को जिम्मेदार ठहराने में लगी है.मैं स्पष्ट तौर पर मानता हूं कि प्रधानमंत्री का पद का खास महत्व होता है. खाली इतिहास पर दोष लगाकर अपने दोष कम नहीं हो सकते हैं.

10 साल बोलने की बजाय किया काम

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री होने के नाते 10 साल मैंने बोलने के बजाय अपने काम पर ध्यान दिया. अपने सियासी लाभ के लिए मैंने कभी देश को बांटा नहीं. देश और पद की शान को कम नहीं होने दिया. चुनौतियों के बावजूद हमेशा देश के मान को बढ़ाया.

देश हमारे अच्छे कामों को कर रहा याद

पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा कि मुझे इस बात की खुशी है कि मेरे उपर चुप रहने, कमजोर होने और भ्रष्टाचार का आरोप लगाने वाली भाजपा आज देश के सामने बेनकाब हो गई है. देश हमारे अच्छे कामों को याद कर रहा है. कुछ दिन पहले PM के सुरक्षा के नाम पर पंजाब और CM चन्नी को बदनाम करने की कोशिश हुई. किसान आंदोलन के दौरान पंजाब और पंजाबियत को बदनाम करने की कोशिश हुई. पंजाबियों की देशभक्ति, दिलेरी और कुर्बानी को दुनिया याद करती है. मुझे पंजाब का नागरिक होने के नाते बहुत दुख हुआ. 

मनमोहन सिंह ने कहा कि गलत आर्थिक नीतियों की वजह से आज बेरोजगारी शिखर पर है. छात्र, महिलाएं और व्यापारी सब परेशान हैं. देश का अन्नदाता दाने-दाने को मोहताज है.

आंकड़ों से धोखा कर रही सरकार

मनमोहन सिंह ने कहा कि देश में सामाजिक असमानता बढ़ रही है. लोगों पर कर्ज़ बढ़ रहा है. जबकि, कमाई घट रही है. अमीर और अमीर और गरीब और गरीब होते जा रहे हैं. ये सरकार आंकड़ों का धोखा करके सब अच्छा बता रही है. सरकार की नीति और नीयत दोनों में खोट है.

सरकार का राष्ट्रवाद है खोखला

पूर्व पीएम ने कहा कि इस सरकार का नकली राष्ट्रवाद जितना खोखला है, उतना ही खतरनाक साबित होता जा रहा है. चीन के मामले को दबाने की कोशिश हो रही है. बिरयानी खाने जो गए थे, उन्हें अब अफ़सोस हो रहा है. बड़ी बातें बोलना आसान है, उसे अमलीजामा पहनाना मुश्किल है. पंजाब की जनता से अपील है कि कांग्रेस पार्टी को बढ़-चढ़कर वोट दें. 


Previous Post Next Post